1. हिन्दी समाचार
  2. JNU कैंपस में बवाल, चेहरे पर नकाब बांधे लोगों ने छात्रों और शिक्षकों पर किया हमला

JNU कैंपस में बवाल, चेहरे पर नकाब बांधे लोगों ने छात्रों और शिक्षकों पर किया हमला

By रवि तिवारी 
Updated Date

Ruckus In Jnu Campus People With Face Mask Attacked Students And Teachers

नई दिल्ली। जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में एक बार फिर दो गुटों के छात्रों के बीच मारपीट की घटना सामने आई है। हमले में छात्रसंघ की अध्यक्ष आइशी घोष बुरी तरह घायल हो गईं हैं। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि शाम करीब 6:30 बजे लगभग 50 गुंडे जेएनयू कैंपस में में घुस आए और छात्रों पर हमला करना शुरू कर दिया। इन लोगों ने कैंपस में मौजूद कारों को भी निशाना बनाया और हॉस्टल में भी तोड़फोड़ की। इस हमले में आइशी घोष के सिर में गंभीर चोट आई है।

पढ़ें :- चैत्र नवरात्रि शुरू होने से पहले करे ये विशेष उपाय, मां दुर्गा प्रसन्न हो करेंगी विशेष कृपा

आइशी ने मीडिया को बताया, ‘मुझ पर बड़ी क्रूरता के साथ मास्क पहने गुंडों ने हमला किया। मेरा खून बह रहा है।’ टीवी रिपोर्ट्स के मुताबिक, लेफ्ट की छात्र इकाई के कार्यकर्ता फीस वृद्धि के मुद्दे पर प्रदर्शन कर रहे थे और इसी दौरान मारपीट हुई है। अभी यह जानकारी नहीं मिल पाई है कि इस घटना में कोई और घायल हुआ है या नहीं।

घटना से जुड़ा विडियो सामने आया है जिसमें स्टूडेंट्स लाठी लिए दिख रहे हैं। उधर, बॉलिवुड अभिनेत्री और जेएनयू की पूर्व स्टूडेंट्स स्वरा भाष्कर ने इस मुद्दे पर ट्वीट किया और पूछा है कि यूनिवर्सिटी में यह सब क्या चल रहा है।

उल्लेखनीय है कि शुक्रवार को कथित रूप से कुछ स्टूडेंट्स मास्क लगाकर सेंटर फॉर इन्फॉर्मेेशन के ऑफिस में घुस गए थे और सरवर में गड़बड़ी पैदा कर दी थी जिससे ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन में स्टूडेंट्स को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। वहीं, यूनिवर्सिटी प्रशासन ने उन स्टूडेंट्स के खिलाफ कार्रवाई की बात कही है।

पढ़ें :- 12 अप्रैल 2021 का राशिफल: इस राशि के जातक विवाद से बचें, इन राशि के लोगों को होगा धन लाभ

उधर, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि जेएनयू में हुई हिंसा को जानकर मैं बहुत हैरान हूं। छात्रों ने बेरहमी से हमला किया। पुलिस को तुरंत हिंसा रोकनी चाहिए और शांति बहाल करनी चाहिए। अगर हमारे छात्र परिसर के अंदर सुरक्षित नहीं रहेंगे तो देश कैसे आगे बढ़ेगा? दूसरी ओर दिल्ली सरकार ने कहा है कि उसने घटना स्थल पर 7 एम्बुलेंस भेजे हैं, मौके पर फिलहाल 10 एम्बुलेंस हैं।

पढ़ें :- यूपी में अभी नहीं लगेगा लॉकडाउन, कंटेनमेंट जोन में सख्ती बढ़ाने जा रही है सरकार

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...