1. हिन्दी समाचार
  2. बिज़नेस
  3. RBI: आरबीआई के हस्तक्षेप से रुपये में गिरावट

RBI: आरबीआई के हस्तक्षेप से रुपये में गिरावट

सोमवार को सेंसेक्स में 1,190 अंक की गिरावट के बावजूद, आरबीआई की ओर से बैंकों द्वारा डॉलर की बिक्री पर अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 16 पैसे की बढ़त के साथ 75.90 पर बंद हुआ।

By प्रीति कुमारी 
Updated Date

विश्लेषकों ने कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा करीब 5 अरब डॉलर की बिक्री ने पिछले कुछ दिनों में रुपये को और गिरने से रोक दिया है। भारतीय मुद्रा, जो पिछले शुक्रवार को 76.23 पर गिर गई थी, मंगलवार को 31 पैसे बढ़कर 75.59 पर पहुंच गई।

पढ़ें :- Hindenburg Report : गौतम अडानी पर टूटा मुसीबतों का पहाड़, अब बिगड़ा मूडीज का मूड, गिरते शेयर पर एजेंसी दी ये चेतावनी

सोमवार को सेंसेक्स में 1,190 अंक की गिरावट के बावजूद, आरबीआई की ओर से बैंकों द्वारा डॉलर की बिक्री पर अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 16 पैसे की बढ़त के साथ 75.90 पर बंद हुआ।

बाजार सूत्रों का अनुमान है कि आरबीआई ने सोमवार को 1 अरब डॉलर की बिक्री की होगी। इसके अलावा, जब डॉलर 76 अंक पर बंद हुआ, तो निर्यातकों ने अपनी डॉलर होल्डिंग को कम कर दिया। एक विश्लेषक ने कहा, अगर आरबीआई ने हस्तक्षेप नहीं किया होता तो डॉलर के मुकाबले रुपया 77 से नीचे गिर जाता।

आईएफए ग्लोबल रिसर्च ने कहा, इस लगातार डॉलर की बिक्री ने भारतीय मुद्रा को 75.60 के प्रमुख तकनीकी स्तर को तोड़ दिया, जिससे व्यापारियों द्वारा स्टॉप-लॉस और अतिरंजित डॉलर की बिक्री शुरू हो गई।

शेयर बाजारों में विदेशी निवेशकों की बिकवाली रुपये की गिरावट का मुख्य कारण है। एफपीआई ने सोमवार को भारत से 3,565 करोड़ रुपये और मंगलवार को 1209 करोड़ रुपये निकाले, जिससे दिसंबर में कुल बहिर्वाह 31,462 करोड़ रुपये हो गया।

पढ़ें :- Adani Group Crisis : अडानी समूह के डूबते शेयर पर अब LIC भी अलर्ट, निवेश स्ट्रैटजी पर करेगा मंथन

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...