जासूसी मामला: रूस ने ब्रिटेन को दिया धमकी, कहा- आग से खेल रहे हैं पछताना पड़ेगा

जासूसी मामला , रूस, ब्रिटेन
जासूसी मामला: रूस ने ब्रिटेन को दिया धमकी, कहा- आग से खेल रहे हैं पछताना पड़ेगा

वाशिंगटन। ब्रिटेन और रूस के बीच जासूस सर्गेई स्क्रिपल को जहर देने के मामले में विवाद और बढ़ गया है। सिक्युरिटी काउंसिल की बैठक में शुक्रवार को रूस के एम्बेस्डर वसिलि नेबेंजिया ने आरोप लगाया कि ब्रिटेन उन्हें बदनाम करने के लिए फर्जी कहानियां गढ़ रहा है। संयुक्त राष्ट्र में रूस के राजदूत वैसिली नेबेंजिया ने परिषद में कहा, ‘यह एक तरह का बेहूदा थिएटर जैसा है। क्या आप इससे बेहतर फर्जी कहानी लेकर नहीं आ सकते थे? हमने अपने ब्रिटिश सहकर्मियों को बता दिया है कि आप आग से खेल रहे हैं और आपको इस पर पछताना पड़ेगा।’  

Russia Prepares To Give Tough Response To Against Of Us Ban America :

रूस के विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि हम मौजूदा हमले या रूस के खिलाफ किसी भी नये हमले का कड़ा जवाब दिये बिना नहीं छोड़ेंगे अमेरिका के प्रतिबंधों में 12 कंपनियों, 17 वरिष्ठ रूसी अधिकारियों और हथियारों का निर्यात करने वाली एक सरकारी कंपनी को निशाना बनाया गया है वहीं, अमेरिका ने रूस को चेतावनी दी है कि यदि उसे अमेरिका के साथ बेहतर संबंध बनाये रखना है, तो अपनी आदतों में सुधार करना होगा

अमेरिका ने पुतिन के कुलीन सहयोगियों पर प्रतिबंध लगाया

अमेरिका ने बीते 6 अप्रैल को सात रूसी कुलीनों के खिलाफ प्रतिबंध लगाया उनपर पाश्चात्य लोकतंत्र को कमजोर करने के राष्ट्रपति पुतिन के प्रयासों का समर्थन करने और उनसे लाभ लेने का आरोप है। अमेरिका के वरिष्ठ अधिकारियों ने धनी अंतरराष्ट्रीय कारोबारियों को पुतिन के भरोसेमंद लोगों के समूह में शामिल बताया एक अधिकारी ने बताया कि अमेरिका यह कार्रवाई दुनियाभर में रूसी सरकार की नुकसान पहुंचाने वाली गतिविधियों के जवाब में कर रहा है

प्रतिबंध से प्रभावित कारोबारियों में अल्यूमीनियम कारोबारी ओलेग डेरीपास्का भी शामिल हैं उनपर आरोप लगाया जाता है कि वह रूसी सरकार के लिये काम कर रहे हैं इसमें सरकारी ऊर्जा कंपनी गजप्रोम के निदेशक एलेक्सी मिलर का नाम भी शामिल है

वाशिंगटन। ब्रिटेन और रूस के बीच जासूस सर्गेई स्क्रिपल को जहर देने के मामले में विवाद और बढ़ गया है। सिक्युरिटी काउंसिल की बैठक में शुक्रवार को रूस के एम्बेस्डर वसिलि नेबेंजिया ने आरोप लगाया कि ब्रिटेन उन्हें बदनाम करने के लिए फर्जी कहानियां गढ़ रहा है। संयुक्त राष्ट्र में रूस के राजदूत वैसिली नेबेंजिया ने परिषद में कहा, ‘यह एक तरह का बेहूदा थिएटर जैसा है। क्या आप इससे बेहतर फर्जी कहानी लेकर नहीं आ सकते थे? हमने अपने ब्रिटिश सहकर्मियों को बता दिया है कि आप आग से खेल रहे हैं और आपको इस पर पछताना पड़ेगा।’  रूस के विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि हम मौजूदा हमले या रूस के खिलाफ किसी भी नये हमले का कड़ा जवाब दिये बिना नहीं छोड़ेंगे अमेरिका के प्रतिबंधों में 12 कंपनियों, 17 वरिष्ठ रूसी अधिकारियों और हथियारों का निर्यात करने वाली एक सरकारी कंपनी को निशाना बनाया गया है वहीं, अमेरिका ने रूस को चेतावनी दी है कि यदि उसे अमेरिका के साथ बेहतर संबंध बनाये रखना है, तो अपनी आदतों में सुधार करना होगा

अमेरिका ने पुतिन के कुलीन सहयोगियों पर प्रतिबंध लगाया

अमेरिका ने बीते 6 अप्रैल को सात रूसी कुलीनों के खिलाफ प्रतिबंध लगाया उनपर पाश्चात्य लोकतंत्र को कमजोर करने के राष्ट्रपति पुतिन के प्रयासों का समर्थन करने और उनसे लाभ लेने का आरोप है। अमेरिका के वरिष्ठ अधिकारियों ने धनी अंतरराष्ट्रीय कारोबारियों को पुतिन के भरोसेमंद लोगों के समूह में शामिल बताया एक अधिकारी ने बताया कि अमेरिका यह कार्रवाई दुनियाभर में रूसी सरकार की नुकसान पहुंचाने वाली गतिविधियों के जवाब में कर रहा हैप्रतिबंध से प्रभावित कारोबारियों में अल्यूमीनियम कारोबारी ओलेग डेरीपास्का भी शामिल हैं उनपर आरोप लगाया जाता है कि वह रूसी सरकार के लिये काम कर रहे हैं इसमें सरकारी ऊर्जा कंपनी गजप्रोम के निदेशक एलेक्सी मिलर का नाम भी शामिल है