Russia Victory Day Parade: रक्षामंत्री बोले-भारतीय सेना का दिखा दम, तीनों सेनाओं की टुकड़ी का भाग लेना गर्व की बात

rajnath singh 1
Russia Victory Day Parade: रक्षामंत्री बोले-भारतीय सेना का दिखा दम, तीनों सेनाओं की टुकड़ी का भाग लेना गर्व की बात

मॉस्को। भारत-चीन के बीच चल रहे तनाव के दौरान रक्षामंत्री राजनाथ सिंह तीन दिवसीय दौरे पर रूस गए हैं। रक्षामंत्री के दौरे का आज दूसरा दिन है। रक्षामंत्री आज मॉस्को में आयोजित विजय दिवस परेड में शामिल हुए। यहां पर भारत की तीनों सेनाओं की एक टुकड़ी भी भाग ​ली थी। इसके अलावा इस परेड में चीन की सेना भी भाग ले रही है।

Russia Victory Day Parade Defense Minister Said The Strength Of The Indian Army It Is A Matter Of Pride To Participate In A Contingent Of Three Forces :

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर कहा है कि, ‘1941-1945 के देशभक्तिपूर्ण युद्ध में सोवियत लोगों की विजय की 75वीं वर्षगांठ मनाने के लिए मॉस्को में रेड स्क्वायर पर विजय दिवस परेड में भाग ले रहा हूं। मुझे गर्व है कि भारतीय सशस्त्र बलों की त्रि-सेवा टुकड़ी भी इस परेड में भाग ले रही है।’ गौरतलब है कि मॉस्को जाने से पूर्व रक्षामंत्री ने ट्वीट कर कहा था कि वह तीन दिनों के दौरे पर वहां जा रहे हैं।

रूस की यात्रा से मुझे भारत-रूस रक्षा और रणनीतिक साझेदारी को और गहरा करने के तरीकों पर बातचीत करने का अवसर मिलेगा। मैं मॉस्को में 75वें विजय दिवस परेड में भी शामिल होउंगा। माना जा रहा है कि राजनाथ रूसी रक्षा के उच्च अधिकारियों से मिलेंगे और आने वाले महीनों में रक्षा उपकरणों की आपूर्ति की समीक्षा करेंगे।

रूसी उप प्रधानमंत्री यूरी बोरिसोव और रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगू के साथ चर्चा के दौरान वे एस-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली के वितरण के मुद्दे को उठा सकते हैं। बता दें कि, रूस हर साल दूसरे विश्व युद्ध में नाजी जर्मनी पर सोवियत विजय की वर्षगांठ मनाता है। इस दिन राजधानी मॉस्को के रेड स्क्वेयर पर एक भव्य सैन्य परेड का आयोजन किया जाता है। इसमें रूस अपने सैन्य दमखम को प्रदर्शित करता है।

मॉस्को। भारत-चीन के बीच चल रहे तनाव के दौरान रक्षामंत्री राजनाथ सिंह तीन दिवसीय दौरे पर रूस गए हैं। रक्षामंत्री के दौरे का आज दूसरा दिन है। रक्षामंत्री आज मॉस्को में आयोजित विजय दिवस परेड में शामिल हुए। यहां पर भारत की तीनों सेनाओं की एक टुकड़ी भी भाग ​ली थी। इसके अलावा इस परेड में चीन की सेना भी भाग ले रही है। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर कहा है कि, '1941-1945 के देशभक्तिपूर्ण युद्ध में सोवियत लोगों की विजय की 75वीं वर्षगांठ मनाने के लिए मॉस्को में रेड स्क्वायर पर विजय दिवस परेड में भाग ले रहा हूं। मुझे गर्व है कि भारतीय सशस्त्र बलों की त्रि-सेवा टुकड़ी भी इस परेड में भाग ले रही है।' गौरतलब है कि मॉस्को जाने से पूर्व रक्षामंत्री ने ट्वीट कर कहा था कि वह तीन दिनों के दौरे पर वहां जा रहे हैं। रूस की यात्रा से मुझे भारत-रूस रक्षा और रणनीतिक साझेदारी को और गहरा करने के तरीकों पर बातचीत करने का अवसर मिलेगा। मैं मॉस्को में 75वें विजय दिवस परेड में भी शामिल होउंगा। माना जा रहा है कि राजनाथ रूसी रक्षा के उच्च अधिकारियों से मिलेंगे और आने वाले महीनों में रक्षा उपकरणों की आपूर्ति की समीक्षा करेंगे। रूसी उप प्रधानमंत्री यूरी बोरिसोव और रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगू के साथ चर्चा के दौरान वे एस-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली के वितरण के मुद्दे को उठा सकते हैं। बता दें कि, रूस हर साल दूसरे विश्व युद्ध में नाजी जर्मनी पर सोवियत विजय की वर्षगांठ मनाता है। इस दिन राजधानी मॉस्को के रेड स्क्वेयर पर एक भव्य सैन्य परेड का आयोजन किया जाता है। इसमें रूस अपने सैन्य दमखम को प्रदर्शित करता है।