सचिन पायलट ने तोड़ी चुप्पी, कहा-अभी मैं कांग्रेस में हूं, नहीं ज्वॉइन कर रहा हूं भाजपा

sachin
सचिन पायलट ने तोड़ी चुप्पी, कहा-अभी मैं कांग्रेस में हूं, नहीं ज्वॉइन कर रहा हूं भाजपा

जयपुर। राजस्थान के डिप्टी सीएम और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष रहे सचिन पायलट ने अपनी चुप्पी तोड़ी है। दोनों पद गंवाने के बाद उन्होंने आज कहा कि वह अभी कांग्रेस में ही हैं और भाजपा ज्वॉइन नहीं करने जा रहे हैं। सीएम गहलोत से बगावत करने के बाद राजनीतिक गलियारों में इस बात की चर्चा हो रही थी कि कहीं पायलट भी ज्योति​रादित्य सिंधिया की तरह भाजपा का दामन तो नहीं थामेंगे।

Sachin Pilot Broke Silence Said I Am In Congress Now I Am Not Joining Bjp :

एक न्यूज एजेंसी को दिए गए इंटरव्यू में सचिन पायलट ने कहा कि वह अभी कांग्रेस में है और इसे छोड़कर नहीं जा रहे हैं। इंटरव्यू में पायलट ने कहा है कि मुझपर आरोप लग रहे हैं कि मैं भाजपा के साथ मिलकर सरकार गिराना चाहता हूं। भाजपा से मिलकर सरकार गिराने की बात करना गलत है। उन्होंने कहा कि मैं अपनी ही पार्टी के खिलाफ ऐसा काम क्यों करूंगा।

पायलट ने कहा कि मैं अभी भी पार्टी में हूं और आगे के कदम के लिए अपने समर्थकों के साथ बातचीत करूंगा। पायलट ने कहा कि मैं अभी भी कांग्रेस में हूं, भाजपा में नहीं जा रहा हूं। उन्होंने कहा कि राजस्थान की जनता के लिए काम करना जारी रखूंगा। सचिन पायलट ने कहा कि मैंने किसी भी विशेष ताकत की मांग नहीं की। मैं केवल इतना चाहता था कि सरकार अपने वादे पूरे करे।

उन्होंने कहा कि मुझे विकास का काम करने का मौका नहीं दिया गया। पायलट ने सीएम गहलोत पर आरोप लगाया कि सत्ता में आने के बाद उन्होंने अपना कोई वादा पूरा नहीं किया। अफसरों को मेरे आदेश ना मानने को कहा गया। उन्होंने कहा कि मेरे पास कोई भी फाइल नहीं आती थी।

 

जयपुर। राजस्थान के डिप्टी सीएम और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष रहे सचिन पायलट ने अपनी चुप्पी तोड़ी है। दोनों पद गंवाने के बाद उन्होंने आज कहा कि वह अभी कांग्रेस में ही हैं और भाजपा ज्वॉइन नहीं करने जा रहे हैं। सीएम गहलोत से बगावत करने के बाद राजनीतिक गलियारों में इस बात की चर्चा हो रही थी कि कहीं पायलट भी ज्योति​रादित्य सिंधिया की तरह भाजपा का दामन तो नहीं थामेंगे। एक न्यूज एजेंसी को दिए गए इंटरव्यू में सचिन पायलट ने कहा कि वह अभी कांग्रेस में है और इसे छोड़कर नहीं जा रहे हैं। इंटरव्यू में पायलट ने कहा है कि मुझपर आरोप लग रहे हैं कि मैं भाजपा के साथ मिलकर सरकार गिराना चाहता हूं। भाजपा से मिलकर सरकार गिराने की बात करना गलत है। उन्होंने कहा कि मैं अपनी ही पार्टी के खिलाफ ऐसा काम क्यों करूंगा। पायलट ने कहा कि मैं अभी भी पार्टी में हूं और आगे के कदम के लिए अपने समर्थकों के साथ बातचीत करूंगा। पायलट ने कहा कि मैं अभी भी कांग्रेस में हूं, भाजपा में नहीं जा रहा हूं। उन्होंने कहा कि राजस्थान की जनता के लिए काम करना जारी रखूंगा। सचिन पायलट ने कहा कि मैंने किसी भी विशेष ताकत की मांग नहीं की। मैं केवल इतना चाहता था कि सरकार अपने वादे पूरे करे। उन्होंने कहा कि मुझे विकास का काम करने का मौका नहीं दिया गया। पायलट ने सीएम गहलोत पर आरोप लगाया कि सत्ता में आने के बाद उन्होंने अपना कोई वादा पूरा नहीं किया। अफसरों को मेरे आदेश ना मानने को कहा गया। उन्होंने कहा कि मेरे पास कोई भी फाइल नहीं आती थी।