सचिन पायलट सरकार गिराने की कर रहे थे डील, मेरे पास हैं सबूत : अशोक गहलोत

ashok gahlot
राजस्थान: गहलोत सरकार को बड़ी राहत, बीएसपी विधायकों के विलय की दाखिल याचिका खारिज

जयपुर। राजस्थान में सियासी उठापटक जारी है। सचिन पायलट की डिप्टी सीएम और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष पद से विदाई के बाद सीएम अशोक गहलोत ने उन पर बड़ा आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि सचिन पायलट खुद राजस्थान सरकार गिराने की डील कर रहे थे। हमारे विधायकों को रुपयों का लालच दिए, जिसके मेरे पास सबूत हैं।

Sachin Pilot Was Doing A Deal To Topple The Government I Have Proof Ashok Gehlot :

सीएम अशोक गहलोत ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह विधायकों की खरीद फरोख्त करने की कोशिश कर रहे थे। उन्होंने आरोप लगाया कि हमारे ​डिप्टी सीएम सचिन पायलट भी खुद राजस्थान सरकार गिराने की डील कर रहे थे। हमारे विधायकों को पैसे के लालच दिए जा रहे हैं। मेरे पास सबूत है। पायलट पर हमला बोलते हुए सीएम गहलोत ने कहा कि पहले भी हमें अपने विधायकों को 10 दिन तक होटल में रखना पड़ा।

अगर उस वक्त हम नहीं रखते तो आज जो मानेसर वाला खेल हुआ है, वो उस समय होने वाला था। रात के दो बजे लोगों को भेजा रहा था। खुद षड्यंत्र में शामिल नेता सफाई दे रहे थे। इसके साथ ही सचिन पायलट पर हमला बोलते हुए गहलोत ने कहा कि अच्छी अंग्रेजी बोलने से कुछ नहीं होता, कमिटमेंट मायने रखता है।

सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि हमारे डिप्टी सीएम हो या पीसीसी चीफ, उनसे जब खरीद-फरोख्त की जानकारी मांगी गई तो सफाई दे रहे हैं। वह खुद षड्यंत्र में शामिल थे। दिल्ली में बैठे लोगों ने सरकार गिराने की साजिश रची। लोकतंत्र को खत्म करने की साजिश हो रही है। कर्नाटक और मध्य प्रदेश की तरह साजिश हो रही है।

इसके साथ ही गहलोत ने कहा कि आज सीबीआई, इनकम टैक्स और ईडी का दुरुपयोग किया जाा रहा है। हम तो तीसरी बार मुख्यमंत्री बने हैं। 40 साल की राजनीति हो गई। हम तो नई पीढ़ी को तैयार करते हैं। आने वाला कल उनका है। हमारी बहुत रगड़ाई हुई थी। 40 सालों तक जिन्होंने संघर्ष किया, वो आज मुख्यमंत्री, केंद्रीय मंत्री और पार्टी के शीर्ष पर हैं।

 

जयपुर। राजस्थान में सियासी उठापटक जारी है। सचिन पायलट की डिप्टी सीएम और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष पद से विदाई के बाद सीएम अशोक गहलोत ने उन पर बड़ा आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि सचिन पायलट खुद राजस्थान सरकार गिराने की डील कर रहे थे। हमारे विधायकों को रुपयों का लालच दिए, जिसके मेरे पास सबूत हैं। सीएम अशोक गहलोत ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह विधायकों की खरीद फरोख्त करने की कोशिश कर रहे थे। उन्होंने आरोप लगाया कि हमारे ​डिप्टी सीएम सचिन पायलट भी खुद राजस्थान सरकार गिराने की डील कर रहे थे। हमारे विधायकों को पैसे के लालच दिए जा रहे हैं। मेरे पास सबूत है। पायलट पर हमला बोलते हुए सीएम गहलोत ने कहा कि पहले भी हमें अपने विधायकों को 10 दिन तक होटल में रखना पड़ा। अगर उस वक्त हम नहीं रखते तो आज जो मानेसर वाला खेल हुआ है, वो उस समय होने वाला था। रात के दो बजे लोगों को भेजा रहा था। खुद षड्यंत्र में शामिल नेता सफाई दे रहे थे। इसके साथ ही सचिन पायलट पर हमला बोलते हुए गहलोत ने कहा कि अच्छी अंग्रेजी बोलने से कुछ नहीं होता, कमिटमेंट मायने रखता है। सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि हमारे डिप्टी सीएम हो या पीसीसी चीफ, उनसे जब खरीद-फरोख्त की जानकारी मांगी गई तो सफाई दे रहे हैं। वह खुद षड्यंत्र में शामिल थे। दिल्ली में बैठे लोगों ने सरकार गिराने की साजिश रची। लोकतंत्र को खत्म करने की साजिश हो रही है। कर्नाटक और मध्य प्रदेश की तरह साजिश हो रही है। इसके साथ ही गहलोत ने कहा कि आज सीबीआई, इनकम टैक्स और ईडी का दुरुपयोग किया जाा रहा है। हम तो तीसरी बार मुख्यमंत्री बने हैं। 40 साल की राजनीति हो गई। हम तो नई पीढ़ी को तैयार करते हैं। आने वाला कल उनका है। हमारी बहुत रगड़ाई हुई थी। 40 सालों तक जिन्होंने संघर्ष किया, वो आज मुख्यमंत्री, केंद्रीय मंत्री और पार्टी के शीर्ष पर हैं।