जसप्रीत बुमराह से नहीं मिल पाने पर उनके दादा ने साबरमती नदी में कूद दे दी जान

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार गेंदबाज जसप्रीत बुमराह के दादा संतोख सिंह बुमराह (84) पिछले दो दिन से लापता चल रहें थे जिनका शव रविवार को अहमदाबाद में साबरमती नदी से बरामद किया गया। उनके आत्महत्या करने की आशंका जतायी गयी है। वहीं बुमराह की बुआ का दावा है कि उनके पिताजी उत्तराखंड से 5 दिसंबर को जसप्रीत के बर्थडे पर बधाई देने के लिए अहमदाबाद आए थे। जहां उनकी मुलाक़ात नहीं हो पाई जिससे उन्होंने ऐसा कदम उठाया।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार वे उत्तराखंड से अहमदाबाद अपने पोते से मिलने के लिए पहुंचे थे। जहां जसप्रीत बुमराह से उनकी मुलाकात नहीं हो पाई थी। काफी वक्त गुजर जाने के बाद भी वह वापस घर नहीं पहुंचे थे। इसके बाद पुलिस में उनके गुमशुदा होने की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। पुलिस के अनुसार, ‘साबरमती नदी के गांधी ब्रिज और दधीचि ब्रिज के बीच में बुजुर्ग संतोख सिंह का शव मिला। अहमदाबाद फायर ऐंड इमर्जेंसी सर्विस ने रविवार दोपहर उनका शव बरामद किया।’

{ यह भी पढ़ें:- वीएचपी नेता प्रवीण तोगड़िया अहमदाबाद में बेहोशी की हालत में मिले }

बुमराह की बुआ का दावा है कि बुमराह की मां ने उनके पिता को अपने पोते से मिलने नहीं दिया गया। बता दें कि जसप्रीत बुमराह अपनी मां और परिवार के साथ अहमदाबाद में रहते हैं। उनके पिता का निधन तब हो गया था जब वह सिर्फ 7 साल के थे। राजेंदर कौर का कहना है कि जसप्रीत बुमराह की मां जिस स्कूल में पढ़ाती हैं वहां भी वह मुलाकात के लिए गए थे।

{ यह भी पढ़ें:- T-20: ऋषभ पंत ने 32 गेंद मेें जड़ा शतक, रोहित शर्मा को छोड़ा पीछे }

Loading...