साधु—संतों ने कहा राम मंदिर नहीं, तो मोदी नहीं, दिग्विजय सिंह की जीत के लिए शुरू किया यज्ञ

digvijay singh
साधु—संतों ने कहा राम मंदिर नहीं, तो मोदी नहीं, दिग्विजय सिंह की जीत के लिए शुरू किया यज्ञ

भोपाल। राम मंदिर नहीं बनने से खफा साधु संतों ने बीजेपी के खिलाफ प्रचार शुरू कर दिया है। भोपाल में साधु संतों ने कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह के लिए प्रचार और जीत के लिए हठ योग कर रहे है। साधु संतों का कहना है कि बीजेपी राम मंदिर के नाम पर सिर्फ झूठ बोलती है।

Sadhu Hat Yog For Digvijaya Singh Agnst Sadhvi Pragya Bhopal Over Ram Mandir :

पांच साल पूरे होने के बाद भी राम मंदिर नहीं बना। मंगलवार की सुबह भोपाल में दिग्विजय सिंह के समर्थन में पूजा की। इस दौरान दिग्विजय सिंह पत्नी अमृता सिंह के साथ पूजा में शामिल हुए। भोपाल लोकसभा सीट पर चुनावी लड़ाई दिलचस्प होती जा रही है।

बीजेपी ने वहां से साध्वी प्रज्ञा को चुनावी मैदान में उतारा है, जबकि कांग्रेस की तरफ से दिग्विजय सिंह चुनावी मैदान में हैं। दोनों प्रत्याशी अपने—अपने तरीके से चुनाव प्रचार में जुटे हैं। राम मंदिर के मुद्दे पर साधु समाज, भाजपा के खिलाफ हैं। इस हठ योग और धुनी का नेतृत्व कर रहे कंप्यूटर बाबा भाजपा सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं।

उनका कहना है कि भाजपा सरकार ने पांच साल में राम मंदिर नहीं बनाया। इसलिए अब राम मंदिर नहीं, तो मोदी नहीं। उनके नेतृत्व में हजारों साधु दिग्विजय सिंह की जीत के लिए हठ योग कर रहे हैं।

भोपाल। राम मंदिर नहीं बनने से खफा साधु संतों ने बीजेपी के खिलाफ प्रचार शुरू कर दिया है। भोपाल में साधु संतों ने कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह के लिए प्रचार और जीत के लिए हठ योग कर रहे है। साधु संतों का कहना है कि बीजेपी राम मंदिर के नाम पर सिर्फ झूठ बोलती है। पांच साल पूरे होने के बाद भी राम मंदिर नहीं बना। मंगलवार की सुबह भोपाल में दिग्विजय सिंह के समर्थन में पूजा की। इस दौरान दिग्विजय सिंह पत्नी अमृता सिंह के साथ पूजा में शामिल हुए। भोपाल लोकसभा सीट पर चुनावी लड़ाई दिलचस्प होती जा रही है। बीजेपी ने वहां से साध्वी प्रज्ञा को चुनावी मैदान में उतारा है, जबकि कांग्रेस की तरफ से दिग्विजय सिंह चुनावी मैदान में हैं। दोनों प्रत्याशी अपने—अपने तरीके से चुनाव प्रचार में जुटे हैं। राम मंदिर के मुद्दे पर साधु समाज, भाजपा के खिलाफ हैं। इस हठ योग और धुनी का नेतृत्व कर रहे कंप्यूटर बाबा भाजपा सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं। उनका कहना है कि भाजपा सरकार ने पांच साल में राम मंदिर नहीं बनाया। इसलिए अब राम मंदिर नहीं, तो मोदी नहीं। उनके नेतृत्व में हजारों साधु दिग्विजय सिंह की जीत के लिए हठ योग कर रहे हैं।