अपने बयान को लेकर फिर चर्चा में आईं साध्वी प्रज्ञा, महात्मा गांधी को बताया राष्ट्रपुत्र

sadhvi
अपने बयान से फिर चर्चा में आईं साध्वी प्रज्ञा, महात्मा गांधी को बताया राष्ट्रपुत्र

इंदौर। मध्यप्रदेश के भोपाल से बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा अपने बयान को लेकर एक बार फिर चर्चा में हैं। इस पर वह महात्मा गांधी को ‘राष्ट्रपुत्र’ और अपना आदरणीय बताकर चर्चा में हैं। हालांकि, इससे पहले साध्वी प्रज्ञा अपने विवादित बयानो को लेकर चर्चा में रहती थीं।

Sadhvi Pragya Gave A Statement About Mahatma Gandhi :

दरअसल, बीजेपी देशभर में गांधी संकल्प यात्रा निकाल रही है, लेकिन साध्वी प्रज्ञा ने अभी तक इसमें हिस्सा नहीं लिया है। भोपाल रेलवे स्टेशन के एक कार्यक्रम में साध्वी प्रज्ञा हिस्सा लेने पहुंची थीं। इस दौरान पत्रकारों ने उनसे पूछा कि वो संकल्प यात्रा में क्यों नहीं जा रहीं हैं? इस सवाल को टालते-टालते साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि ‘गांधी राष्ट्रपुत्र हैं और हमारे लिए आदरणीय हैं लेकिन मुझे किसी को सफाई नहीं देनी।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि, देश के लिए जो भी सराहनीय कार्य किया है वह निश्चित रूप से हमारे लिए आदरणीय और परम आदरणीय है। हम उनके कदमों पर चलते हैं। साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि हमारे जो लोग हमें मार्गदर्शन देकर गए हैं निश्चित रूप से हम उनका गुणगान करते हैं, उनके कदमों पर चलकर हम लोगों का आगे मार्ग प्रशस्त करते हैं।

उन्होंने न सिर्फ महात्मा गांधी बल्कि भगवान राम, शिवाजी महाराज और महाराणा प्रताप को भी धरा का पुत्र बताया। उन्होंने निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी के कहने पर हम अपने सिद्धांत नहीं बदलेंगे। जो अच्छा है, वह स्वीकार है और जो गलत है, वह अस्वीकार है।

इंदौर। मध्यप्रदेश के भोपाल से बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा अपने बयान को लेकर एक बार फिर चर्चा में हैं। इस पर वह महात्मा गांधी को 'राष्ट्रपुत्र' और अपना आदरणीय बताकर चर्चा में हैं। हालांकि, इससे पहले साध्वी प्रज्ञा अपने विवादित बयानो को लेकर चर्चा में रहती थीं। दरअसल, बीजेपी देशभर में गांधी संकल्प यात्रा निकाल रही है, लेकिन साध्वी प्रज्ञा ने अभी तक इसमें हिस्सा नहीं लिया है। भोपाल रेलवे स्टेशन के एक कार्यक्रम में साध्वी प्रज्ञा हिस्सा लेने पहुंची थीं। इस दौरान पत्रकारों ने उनसे पूछा कि वो संकल्प यात्रा में क्यों नहीं जा रहीं हैं? इस सवाल को टालते-टालते साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि 'गांधी राष्ट्रपुत्र हैं और हमारे लिए आदरणीय हैं लेकिन मुझे किसी को सफाई नहीं देनी। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि, देश के लिए जो भी सराहनीय कार्य किया है वह निश्चित रूप से हमारे लिए आदरणीय और परम आदरणीय है। हम उनके कदमों पर चलते हैं। साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि हमारे जो लोग हमें मार्गदर्शन देकर गए हैं निश्चित रूप से हम उनका गुणगान करते हैं, उनके कदमों पर चलकर हम लोगों का आगे मार्ग प्रशस्त करते हैं। उन्होंने न सिर्फ महात्मा गांधी बल्कि भगवान राम, शिवाजी महाराज और महाराणा प्रताप को भी धरा का पुत्र बताया। उन्होंने निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी के कहने पर हम अपने सिद्धांत नहीं बदलेंगे। जो अच्छा है, वह स्वीकार है और जो गलत है, वह अस्वीकार है।