उमा भारती से मिलने पहुंची साध्वी प्रज्ञा , गले मिलते ही छलक उठे आंसू

sadhvi prgya
उमा भारती से मिलने पहुंची साध्वी प्रज्ञा ठाकुर, जानिए क्यों गले मिलते ही प्रज्ञा ठाकुर के छलक उठे आंसू

भोपाल। लोकसभा चुनाव के चौथे चरण के लिए वोटिंग चल रही है। इस बीच भोपल से बीजेपी प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर केन्द्रिय मंत्री उमा भारती से मिलने उनके आवास पहुंची। इस दौरान उमा ने गले लगाकर साध्वी प्रज्ञा का स्वागत किया। इस दौरान बातचीत में साध्वी प्रज्ञा के आंखों से आंसू छलक उठे और वह रो पड़ीं। हालांकि उमा भारती ने टीका करके साध्वी को खीर खिलाई और उन्हें आश्वसत किया कि वे उनके लिए प्रचार करेंगी। हालांकि इससे पहले दोनों के बीच तनातनी की खबरें आतीं थीं लेकिन आज जिस तरह से दोनों लोगों की मुलाकात हुई है उससे उनके बीच की दूरी को खत्म होना बताया जा रहा है।

Sadhvi Pragya Thakur Who Arrived To Meet Uma Bharati :

केन्द्रिय मंत्री उमा भारती और भोपाल से बीजेपी प्रत्याशी प्रज्ञा ठाकुर के बीच तल्खी की चर्चा पहले से थी। कुछ दिन पूर्व उमा भारती ने कहा था कि ‘वह एक महान संत हैं, मेरी उनसे तुलना मत कीजिए। मैं एक साधारण और मूर्ख प्राणी हूं’। लोकसभा चुनाव के बीच उमा का यह बयान चर्चा का केंद्र बना। जिसके बाद सोमवार को साध्वी प्रज्ञा ठाकुर और उमा भारती की मुलाकात हुई।

इस दौरान दोनों के बीच बातचीत हुई। इस दौरान उमा भारती ने साध्वी प्रज्ञा को खीर खिलाया। इस दौरान उमा भारती ने अपने पुराने बयान पर सफाई देते हुए साध्वी प्रज्ञा से कहा कि मीडिया वाले उनका बयान काट कर दिखा रहे हैं। उमा ने कहा, ‘दीदी मां साध्वी प्रज्ञा के चुनाव लड़ने से मुझे बहुत खुशी हुई। मैं उन्हें एक महान संत और देशभक्त मानती हूं क्योंकि उन्होंने जो कष्ट झेले हैं, वो एक साधारण व्यक्ति नहीं झेल सकता है’।

वहीं मुलाकात के बाद जब उमा भारती साध्वी प्रज्ञा को उनकी कार तक छोड़ने आईं तो साध्वी प्रज्ञा रोने लगीं। यह देखकर कार में बैठी हुई साध्वी प्रज्ञा को उमा भारती ने गले लगा लिया और उनका माथा चूमकर आंसू भी साफ किए। बता दें कि भोपाल लोकसभा सीट से बीजेपी ने साध्वी प्रज्ञा को टिकट दिया है, जबकि कांग्रेस ने यहां से ​दिग्विजय सिंह को चुनावी मैदान में उतारा है।

भोपाल। लोकसभा चुनाव के चौथे चरण के लिए वोटिंग चल रही है। इस बीच भोपल से बीजेपी प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर केन्द्रिय मंत्री उमा भारती से मिलने उनके आवास पहुंची। इस दौरान उमा ने गले लगाकर साध्वी प्रज्ञा का स्वागत किया। इस दौरान बातचीत में साध्वी प्रज्ञा के आंखों से आंसू छलक उठे और वह रो पड़ीं। हालांकि उमा भारती ने टीका करके साध्वी को खीर खिलाई और उन्हें आश्वसत किया कि वे उनके लिए प्रचार करेंगी। हालांकि इससे पहले दोनों के बीच तनातनी की खबरें आतीं थीं लेकिन आज जिस तरह से दोनों लोगों की मुलाकात हुई है उससे उनके बीच की दूरी को खत्म होना बताया जा रहा है। केन्द्रिय मंत्री उमा भारती और भोपाल से बीजेपी प्रत्याशी प्रज्ञा ठाकुर के बीच तल्खी की चर्चा पहले से थी। कुछ दिन पूर्व उमा भारती ने कहा था कि 'वह एक महान संत हैं, मेरी उनसे तुलना मत कीजिए। मैं एक साधारण और मूर्ख प्राणी हूं'। लोकसभा चुनाव के बीच उमा का यह बयान चर्चा का केंद्र बना। जिसके बाद सोमवार को साध्वी प्रज्ञा ठाकुर और उमा भारती की मुलाकात हुई। इस दौरान दोनों के बीच बातचीत हुई। इस दौरान उमा भारती ने साध्वी प्रज्ञा को खीर खिलाया। इस दौरान उमा भारती ने अपने पुराने बयान पर सफाई देते हुए साध्वी प्रज्ञा से कहा कि मीडिया वाले उनका बयान काट कर दिखा रहे हैं। उमा ने कहा, 'दीदी मां साध्वी प्रज्ञा के चुनाव लड़ने से मुझे बहुत खुशी हुई। मैं उन्हें एक महान संत और देशभक्त मानती हूं क्योंकि उन्होंने जो कष्ट झेले हैं, वो एक साधारण व्यक्ति नहीं झेल सकता है'। वहीं मुलाकात के बाद जब उमा भारती साध्वी प्रज्ञा को उनकी कार तक छोड़ने आईं तो साध्वी प्रज्ञा रोने लगीं। यह देखकर कार में बैठी हुई साध्वी प्रज्ञा को उमा भारती ने गले लगा लिया और उनका माथा चूमकर आंसू भी साफ किए। बता दें कि भोपाल लोकसभा सीट से बीजेपी ने साध्वी प्रज्ञा को टिकट दिया है, जबकि कांग्रेस ने यहां से ​दिग्विजय सिंह को चुनावी मैदान में उतारा है।