भाजपा सांसद के गोद लिये गांव में 30 मौतें, स्वास्थ्य महकमा बीमारी का पता लगाने में नाकाम

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के सांसद के गोद लिये गांव में संदिग्ध बीमारी से 30 लोगों की मौत हो गयी। मामला यूपी के कैराना लोकसभा क्षेत्र का है। यहां के सुखेड़ी गांव को भाजपा सांसद हुकुम सिंह ने गोद लिया था। इस गांव की बदहाली का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि जहां बीते दिनों किसी संदिग्ध बीमारी ने 30 लोगों की जान ले ली और करीब 200 लोग ग्रसित बताए जा रहे हैं। ग्रामीणों का दावा है, पूरा गांव डेंगू-मलेरिया से ग्रसित है।

ग्रामीणों का कहना है कि इस दयनीय हालत में भी कोई जनप्रतिनिधि एक बार भी हमें देखने नहीं आया है। ग्रामीणों के मुताबिक, दो दिन पहले ही स्वास्थ्य विभाग की एक टीम गांव पहुंची है। लेकिन, वो भी खानापूर्ति करते नजर आ रही है। वहीं इस पूरे मामले पर स्वास्थ्य महकमे का कहना है कि उनके पास चार लोगों की ही मौत की खबर है, डेंगू का असर गांव में नहीं है। किसी अन्य बीमारी से लोगों की मौत हो रही है।

{ यह भी पढ़ें:- ये हैं यूपी के अच्छे पुलिस वाले, एक आईजी दूसरा दारोगा }

बताते चलें कि साल 2014 में ग्रामीण इलाकों का विकास करने के लिए आदर्श ग्राम योजना की शुरुआत की थी। इसके तहत हर सांसद को एक गांव गोद लेकर उसका संपूर्ण विकास करना था। इसी कड़ी में कैराना से बीजेपी सांसद बाबू हुकुम सिंह ने सुखेड़ी गांव को गोद लिया था। योजना के तीन साल हो गए लेकिन विकास होने की बजाय पूरा गांव बीमार पड़ चुका है।

ग्रामीणों का कहना है कि सांसद के गोद लेने के बाद भी इस गांव में विकास के नाम पर कुछ नहीं हुआ है। लापरवाही के चलते गांव की हालत दिन ब दिन बिगड़ती जा रही है।

{ यह भी पढ़ें:- 'मुआवजा राशि' के लिए 'मुकर' गए प्रधान, महकमा मौन, मुख्यमंत्री से शिकायत }

Loading...