1. हिन्दी समाचार
  2. क्रिकेट
  3. Sahvag sixer: गांगुली और धोनी में से कौन है बेस्ट कप्तान, तुलनात्मक सवाल को लेकर विरेंद्र सहवाग ने दिया बेहतरीन जवाब

Sahvag sixer: गांगुली और धोनी में से कौन है बेस्ट कप्तान, तुलनात्मक सवाल को लेकर विरेंद्र सहवाग ने दिया बेहतरीन जवाब

इस प्रतियोगिता के दौर में कौन बेस्ट है इस सवाल का जवाब आपको हर व्यक्ति तलाशते नजर आ ही जाता है। ऐसे सवाल से आखिर भारतीय क्रिकेट कैसे अछूता रहता। यहां भी ये चर्चा आम है की भारतीय क्रिकेट का बेस्ट कप्तान कौन है। इस मुद्दे पर अक्सर कई खिलाड़ियों से सवाल पूछे जाते हैं। हर कोई अपने अपने अनुभवों के अनुसार जवाब दे जाता है। इस सवाल का एक बार फिर जवाब दिया है भारतीय टीम के बेखौप बल्लेबाज विरेंद्र सहवाग ने।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

Sahvag sixer:  इस प्रतियोगिता के दौर में कौन बेस्ट है इस सवाल का जवाब आपको हर व्यक्ति तलाशते नजर आ ही जाता है। ऐसे सवाल से आखिर भारतीय क्रिकेट कैसे अछूता रहता। यहां भी ये चर्चा आम है की भारतीय क्रिकेट का बेस्ट कप्तान कौन है। इस मुद्दे पर अक्सर कई खिलाड़ियों से सवाल पूछे जाते हैं। हर कोई अपने अपने अनुभवों के अनुसार जवाब दे जाता है। इस सवाल का एक बार फिर जवाब दिया है भारतीय टीम के बेखौप बल्लेबाज विरेंद्र सहवाग ने।

पढ़ें :- Virat Kohli : विराट कोहली ने बनाया एक और रिकॉर्ड, यह उपलब्धि हासिल करने वाले बने दुनिया के पहले क्रिकेटर

सहवाग ने आर जे रौनक के यूट्यूब शो 13 जवाब नहीं पर बात करते हुए कहा कि, वीरेंद्र सहवाग जिन्होंने कुछ बेहतरीन कप्तान की कप्तानी में क्रिकेट खेली, उन्होंने अब बताया कि एम एस धौनी और सौरव गांगुली इन दोनों में से बेस्ट कौन थे। गांगुली और धौनी दोनों ने भारतीय क्रिकेट में महत्वपूर्ण योगदान दिया। जहां गांगुली भारतीय टीम को 2003 आइसीसी वनडे विश्व कप के फाइनल में ले गए, वहीं धौनी ने अपनी कप्तानी में भारत के लिए तीन आइसीसी खिताब जीते।

हालांकि इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है कि जब बड़े टूर्नामेंटों में सफलता की बात आती है तो धौनी भारतीय कप्तानों के चार्ट में सबसे ऊपर हैं, तो वहीं सहवाग को लगता है कि सौरव गांगुली दोनों में से बेहतर थे। सहवाग ने आर जे रौनक के यूट्यूब शो 13 जवाब नहीं पर बात करते हुए कहा कि, मुझे लगता है कि कप्तानी कि लिहाज से दोनों शानदार थे, लेकिन मुझे लगता है कि गांगुली ज्यादा बेहतर कप्तान थे। उन्होंने एक नई टीम का निर्माण किया, उन्होंने नए खिलाड़ियों का चयन किया और एक यूनिट का पुनर्निर्माण किया। गांगुली ने भारत को विदेशी धरती पर जीतना सिखाया। हमने टेस्ट मैच ड्रा किए और कुछ विदेशों में जीते।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...