1. हिन्दी समाचार
  2. सिब्बल की राह पर चले सलमान खुर्शीद, कहा- राज्यों को लागू ही करना होगा CAA

सिब्बल की राह पर चले सलमान खुर्शीद, कहा- राज्यों को लागू ही करना होगा CAA

By रवि तिवारी 
Updated Date

Salman Khurshid On The Path Of Sibal Said States Must Implement Caa

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद ने भी नागरिकता कानून को कपिल सिब्बल वाली ही बात दोहराई है। उन्होंने भी कहा है कि संवैधानिक रूप से राज्यों के लिए इस कानून को न मानना मुश्किल होगा।‘संसद द्वारा पारित कानून के लिए राज्‍य सरकार यह नहीं कह सकता कि इसका अनुसरण नहीं करूंगा।’ उन्‍होंने कहा कि इस मामले पर केंद्र से राज्‍य सरकारों के विचार में काफी अंतर है। इसलिए हमें सुप्रीम कोर्ट के अंतिम फैसले का इंतजार करना होगा।

पढ़ें :- केंद्र सरकार वैक्सिनेशन सेंटर्स नहीं खोलने दे रही इजाजत : केजरीवाल

10 जनवरी से देश भर में नागरिकता कानून लागू हो चुका है। कई गैर बीजेपी शासित राज्यों में नागरिकता कानून को अपने यहां लागू करने से इनकार किया है। केरल सरकार ने इस हफ्ते की शुरुआत में सीएए के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का रुख किया था। केरल, राजस्थान, मध्यप्रदेश, पश्चिम बंगाल और महाराष्ट्र सहित कई राज्यों ने सीएए के साथ ही राष्ट्रीय नागरिक पंजी (NRC) और राष्ट्रीय जनसंख्या पंजी (NPR) का विरोध किया है।

खुर्शीद ने कहा कि इस कानून को लेकर अब सिर्फ सुप्रीम कोर्ट ही कुछ कर सकता है। उन्होंने कहा, “जहां तक इस कानून की बात है यह एक ऐसा मामला है जहां राज्य सरकारों का केंद्र के साथ बेहद गंभीर मतभेद है। इसलिए हम सुप्रीम कोर्ट के अंतिम निर्णय की प्रतीक्षा करेंगे. आखिरकार सुप्रीम कोर्ट तय करेगा और तब तक जो कुछ कहा गया / किया गया / नहीं किया गया वो सब अस्थाई और अनिश्चित है।”

strong>सिब्बल बोले- कोई राज्य लागू करने से नहीं कर सकता इनकार

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने कहा कि यदि नागरिकता संशोधन कानून (CAA) पारित हो गया है तो कोई भी राज्य इसे लागू करने से मना नहीं कर सकता है। सीएए को लागू करने से मना करना मुमकिन नहीं और इसे लागू करने से इनकार करना असंवैधानिक होगा।

पढ़ें :- Google के कर्मचारियाें का होता है उत्पी​ड़न, CEO सुंदर पिचाई काे लिखा लेटर

सिब्बल ने इसके साथ ही केरल के राज्यपाल पर निशाना साधा है। सिब्बल ने कहा कि केरल के राज्यपाल को संविधान के बारे में कोई आइडिया नहीं है। उन्होंने शनिवार को यह बात केरल लिटरेचर फेस्टिवल में कही है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...