गठबंधन और सीटों के बंटवारे का फैसला लेंगे अखिलेश, कार्यकारिणी बैठक में हुआ फैसला

sp-akhilesh
गठबंधन और सीटों के बंटवारे का फैसला लेंगे अखिलेश, कार्यकारिणी बैठक में हुआ फैसला

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में शनिवार को समाजवादी पार्टी (सपा) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव एवं वरिष्ठ नेता शिवपाल यादव में दूरियां दिखाई दी। कार्यकारिणी की बैठक में न तो मुलायम सिंह पहुंचे और न ही शिवपाल यादव। हालांकि राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव ने कहा कि यह कोई जरूरी नहीं कि बैठक में सभी लोग पहुंचें ही। राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक शनिवार को राजधानी स्थित सपा मुख्यालय में हुई। कार्यकारिणी ने आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर पार्टियों से गठबंधन और सीटों के बंटवारे से संबंधित फैसले लेने के लिए राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को अधिकृत किया गया।

बैठक के बाद पत्रकारों को संबोधित करते हुए रामगोपाल यादव ने कहा, गठबंधन को लेकर अखिलेश यादव जो भी फैसला लेंगे, वह पार्टी को मान्य होगा। हालांकि किससे और कितनी सीटों पर समझौता होगा, इस बारे में उन्होंने कोई जानकारी नहीं दी। एक सवाल के जवाब में रामगोपाल ने कहा, केंद्र में 17 दलों की सरकार है। इसका मतलब यह नहीं है कि सभी दलों के नेता मोदीजी ही हो गए हैं। हर दल का अपना नेता होता है। बैठक में हाल ही में दिवंगत हुए कवि गोपाल दास नीरज को लेकर एक शोक प्रस्ताव भी पास किया गया।

{ यह भी पढ़ें:- विरोधी नेताओं के लिए भी सम्मान का भाव रखते थे अटल जी: अखिलेश यादव }

कार्यकारिणी की बैठक से सपा के वरिष्ठ नेता आजम खां गायब रहे। इस संबंध में जब रामगोपाल यादव से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि जरूरी नहीं कि सभी लोग बैठक में मौजूद हों। 90 प्रतिशत सदस्य मौजूद थे। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी मौजूद थे। इतना काफी है। कार्यकारिणी की बैठक में सपा ने आगामी लोकसभा चुनाव बैलेट से कराने की मांग उठाई है। रामगोपाल यादव ने कहा कि चुनाव आयोग ने उनकी बात नहीं मानी तो वह उसके दफ्तर में धरने पर बैठ जाएंगे। न कोई अंदर जा सकेगा और न ही बाहर।

{ यह भी पढ़ें:- राष्ट्रगान और राष्ट्रगीत में है बहुत फर्क, नही माना जाएगा वसीम रिजवी का आदेश : जफरयाब जिलानी }

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में शनिवार को समाजवादी पार्टी (सपा) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव एवं वरिष्ठ नेता शिवपाल यादव में दूरियां दिखाई दी। कार्यकारिणी की बैठक में न तो मुलायम सिंह पहुंचे और न ही शिवपाल यादव। हालांकि राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव ने कहा कि यह कोई जरूरी नहीं कि बैठक में सभी लोग पहुंचें ही। राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक शनिवार को राजधानी स्थित सपा मुख्यालय में हुई। कार्यकारिणी ने…
Loading...