सारा हत्याकांड के आरोपी अमनमणि त्रिपाठी को सपा से मिला टिकट, अखिलेश नाराज

लखनऊ| यूपी में आगामी विधानसभा चुनाव की सुगबुगाहट के बीच सपा ने 14 पुराने उम्मीदवारों का टिकट काटते हुए 21 प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी है| इस लिस्ट में सबसे चौकाने वाला नाम मधुमिता हत्याकांड के मुख्य अभियुक्त अमरमणि त्रिपाठी के बेटे अमनमणि का है| उन्हें महाराजगंज के नौतनवा से पार्टी का उम्मीदवार घोषित किया गया है| बता दें कि अमनमणि पत्नी सारा की हत्या के मामले में भी जांच के घेरे में हैं|




अमनमणि त्रिपाठी के साथ ही पार्टी ने एनआरएचएम घोटाले के आरोपी मुकेश श्रीवास्तव को बहराइच के पयागपुर, जयशंकर सिंह को बहराइच के नानपारा, संजय यादव को सोनभद्र के ओबरा, बुलंदशहर के डिबाई से हरीश लोधी, हरदोई को गोपामऊ (सुरक्षित) से राजेश्वरी, हरदोई के सांडी से ऊषा वर्मा, सहारनपुर के नकुड़ से मोहम्मद इरशाद व अंबेडकरनगर के जलालपुर से सुभाष राय को प्रत्याशी बनाया है। इसके अलावा पार्टी ने 14 सीटों पर अपने प्रत्याशी बदले भी हैं|

उधर खबर आ रही है कि अमरमणि त्रिपाठी के बेटे अमनमणि को टिकट दिए जाने से अखिलेश यादव नाराज हो गए हैं| अखिलेश यादव भले ही यूपी के सीएम हों लेकिन पार्टी की कमान अब शिवपाल यादव के पास है और इसी के कारण उन्होने अमनमणि त्रिपाठी को टिकट दिया है जिसके अखिलेश यादव नाराज हो गए हैं|

बता दें कि मधुमिता शुक्ला हत्याकाण्ड मामले में आजीवन कारावास की सजा काट रहे पूर्व विधायक अमरमणि त्रिपाठी के बेटे अमनमणि की पत्नी की बीते साल सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी| घटना के समय अमनमणि भी कार में मौजूद थे लेकिन उन्हें मामूली चोटें ही आई थी| जिसके बाद उनकी सुसराल पक्ष के लोगों ने उनपर हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था| जिसको लेकर वह जांच के घेरे में हैं|