अगर मैंने गलती की होती तो मुझे कुतुबमीनार पर टांग देते मोदी : आजम खान

azam khan
अगर मैंने गलती की होती तो मुझे कुतुबमीनार पर टांग देते मोदी : आजम खान

नई दिल्ली। समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री आजम खान ने चुनाव को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। उन्होने कहा कि अगर कोई और विकल्प होता तो मैं खुद चुनाव नहीं लड़ता। वो बेटे अब्दुल्ला आजम के साथ वोट डालने पहुंचे थे, जहां उन्होने कहा कि अगर मैंने सुई की नोंक के बराबर भी गलत काम किया होता तो मोदीजी ने 5 साल में मुझे कुतुबमीनार पर टांग दिया होता।

Samajwadi Party Leader Azam Khan Statement On Pm Modi :

हाल ही में समाजवादी पार्टी के नेता और रामपुर लोकसभा सीट से उम्मीदवार आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम खान ने बीजेपी प्रत्याशी जया प्रदा के खिलाफ विवादित बयान दिया था। उन्होने कहा था कि अली और बजरंगबली दोनों हमारे हैं, लेकिन हमें अनारकली नहीं चाहिए। एक जनसभा का संबोधित करते हुए उन्होने कहा कि हमारे माथे पर जो गुलामी का कलंक था, वो फिर से लग जाएगा। चुनाव विकास के नाम पर हो रहा है पर विकास न तो 2014 में हुआ और न 2017 में हुआ।

वहीं आजम खान ने भी जया प्रदा का नाम लिए बिना आपत्तिजनक बयान दिया था। उन्होंने कहा कि जिसको हम उंगली पकड़कर रामपुर लाए, आपने 10 साल जिनसे प्रतिनिधित्व कराया, उसकी असलियत समझने में आपको 17 साल लगे, मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनका…खाकी रंग का है। उनके इस बयान को लेकर काफी हंगामा मचा। जिसके बाद इलेक्शन कमीशन ने उनके प्रचार पर ही बैन लगा दिया था।

नई दिल्ली। समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री आजम खान ने चुनाव को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। उन्होने कहा कि अगर कोई और विकल्प होता तो मैं खुद चुनाव नहीं लड़ता। वो बेटे अब्दुल्ला आजम के साथ वोट डालने पहुंचे थे, जहां उन्होने कहा कि अगर मैंने सुई की नोंक के बराबर भी गलत काम किया होता तो मोदीजी ने 5 साल में मुझे कुतुबमीनार पर टांग दिया होता। हाल ही में समाजवादी पार्टी के नेता और रामपुर लोकसभा सीट से उम्मीदवार आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम खान ने बीजेपी प्रत्याशी जया प्रदा के खिलाफ विवादित बयान दिया था। उन्होने कहा था कि अली और बजरंगबली दोनों हमारे हैं, लेकिन हमें अनारकली नहीं चाहिए। एक जनसभा का संबोधित करते हुए उन्होने कहा कि हमारे माथे पर जो गुलामी का कलंक था, वो फिर से लग जाएगा। चुनाव विकास के नाम पर हो रहा है पर विकास न तो 2014 में हुआ और न 2017 में हुआ। वहीं आजम खान ने भी जया प्रदा का नाम लिए बिना आपत्तिजनक बयान दिया था। उन्होंने कहा कि जिसको हम उंगली पकड़कर रामपुर लाए, आपने 10 साल जिनसे प्रतिनिधित्व कराया, उसकी असलियत समझने में आपको 17 साल लगे, मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनका...खाकी रंग का है। उनके इस बयान को लेकर काफी हंगामा मचा। जिसके बाद इलेक्शन कमीशन ने उनके प्रचार पर ही बैन लगा दिया था।