संभल में बवाल, पत्थरबाजी व फायरिंग में सीओ समेत आठ पुलिस कर्मी घायल

सम्भल। मुरादाबाद के कुंदरकी के रहने वाले तकरीबन नब्बे लोगों के साथ गवां रोड पर कमालपुर के निकट एक मामूली विवाद ने बड़ा तूल पकड़ा। बुधवार की शाम तकरीबन छह बजे बस यात्रियों के साथ कमालपुर में विवाद हुआ और वहां चार यात्रियों को जबरिया उतार लिया गया। इससे गुस्साए बस यात्रियों के दल ने अपने सगे संबंधियों के साथ सम्भल शहर के चौधरी सराय पुलिस चौकी के समीप जाम लगा दिया। जाम के बाद अचानक यहां बवाल शुरू हो गया और प्रदर्शनकारियों में शामिल उपद्रवियों ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज किया और मामला बढ़ गया। इसी बीच भीड ने पत्थरबाजी के साथ ही फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने भी हवाई फायरिंग की हालांकि इससे अफसरों ने इंकार किया है।




पथराव के दौरान सीओ सम्भल अफसर अब्बास जैदी, दारोगा आरपी गौतम और क्यूआरटी इंचाज सोमदत्त शर्मा के साथ ही सिपाही मनोज, रिंकू, चंचल और देवेंद्र यादव, प्रमोद घायल हो गए। इतना ही नहीं प्रदर्शनकारियों ने जमकर उत्पात भी मचाया। पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच विवाद के बाद सड़कों पर नंगा नाच खेला गया। सरकारी बस में जमकर तोड़फोड़ की गई। हापुड़ डिपो की बस बदाय से दिल्ली जा रही थी। इ समें पत्थरबाजी कर दी गई। बस में सवार तकरीबन 22 यात्रियों के साथ ही चालक व परिचालक घायल हो गए। एक मोबाइल भी लटा गया। इसके अलावा सड़कों पर राहगीरों व यात्रियों के साथ वाहन चालकों को भी मारा पीटा गया। हयात नगर थानेके वाहन के साथ ही एक दर्जन प्राइवेट वाहनों को भी प्रदर्शनकारियों ने तोड़ दिया।




घटना के बाद एसपी बालेंदु भूषण ¨सह ने पूरे जिले की फोर्स के साथ ही पीएसी की कई कंपनियों को प्रदर्शनकारियों से टक्कर लेने को लगा दिया। एएसपी राम मूरत यादव, एडीएम आरपी यादव, सभी सीओ, एसडीएम अखिलेश यादव के अलावा दो दर्जन से अधिक पुलिस व प्रशासनिक अफसरों ने खुद मोर्चा संभाल लिया था। पत्थरबाजी रूकने के बाद रात में ग्यारह बजे के बाद पुलिस ने ऐहतियातन सम्भल शहर में सायरन बजाते हुए गश्त की और प्रदर्शनकारियों की तलाश भी की । उधर कमालपुर में बस यात्रियों के साथ बवाल करने वाले लोगोंकी तलाश में भी पुलिस टीम ने छापेमारी की। अब पुलिस उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की तैयारी में है। जबकि प्रदर्शनकारियों के खिलाफ भी कई धाराओं में देर रात मुकदमे दर्ज करने की कार्रवाई चलती रही।

Loading...