संदीप बख्शी ICICI बैंक के COO नियुक्त, छुट्टी पर ही रहेंगी चंदा कोचर

संदीप बख्शी ICICI बैंक के COO नियुक्त, छुट्टी पर ही रहेंगी चंदा कोचर
संदीप बख्शी ICICI बैंक के COO नियुक्त, छुट्टी पर ही रहेंगी चंदा कोचर

नई दिल्ली। वीडियोकॉन लोन मामले के बाद आईसीआईसीआई बैंक के टॉप मैनेजमेंट में बदलाव होने की खबर पर जल्द ही विराम लग सकता है। पिछले दिनों भी खबर आई थी कि बैंक की सीईओ चंदा कोचर को लंबी छुट्टियों पर भेज दिया गया है। जिसके कुछ दिन बाद ही बैंक की तरफ से  इस खबर का खंडन करते हुए कहा गया कि चंदा कोचर अपनी एनुअल लीव पर गई हैं और ये छुट्टियां उनकी पहले से ही प्लान थी। अब खबर है कि आईसीआईसीआई बैंक ने चंदा कोचर का विकल्प तलाश लिया है। जल्द ही टॉप मैनेजमेंट में फेरबदल की खबर की पुष्टि हो सकती है।

कौन हैं बख्शी?

संदीप बख्शी को आईसीआईसीआई बैंक का पूर्णकालिक निदेशक और मुख्य संचालन अधिकारी नियुक्त किया गया है। वह मंगलवार (19 जून) से बैंक के मुख्य संचालन अधिकारी पद की जिम्मेदारी संभालेंगे। बख्शी इससे पहले आईसीआईसीआई बैंक की सहायक कंपनी आईसीआईसीआई प्रुडेंशियल लाइफ इंश्योरेंस के एमडी और सीईओ थे। बैंक की वर्तमान एमडी और सीईओ चंदा कोचर के खिलाफ एक स्वतंत्र जांच पूरी होने तक वह बैंक के संचालन की देखरेख करेंगे। जानकारी के लिए आपको बता दें कि कोचर और उनका परिवार फिलहाल वीडियोकॉन ग्रुप को दिए गए लोन के संबंध में जांच का सामना कर रहा है। बीते महीने आईसीआईसीआई बैंक ने इस संबंध में एक स्वत्रंत जांच कराने की घोषणा की थी। कोचर पर यह जांच एक व्हिसल ब्लोअर की ओर से लगाए गए गंभीर आरोपों पर हो रही है।

{ यह भी पढ़ें:- ब्रिटेन में विजय माल्या की संपत्ति होगी सीज, ब्रिटिश कोर्ट ने दी इजाजत }

कब तक बैंक के COO बने रहेंगे बख्शी?

संदीप बख्शी 5 साल तक बैंक के मुख्य संचालन अधिकारी बने रहेंगे। हालांकि उनकी इस नियुक्ति को अभी नियामकीय मंजूरियां मिलना बाकी हैं। हाल फिलहाल में यह चर्चा भी तेज थी कि उन्हें बैंक का नया सीईओ और एमडी नियुक्त किया जा सकता है, क्योंकि चंदा कोचर का कार्यकाल मार्च 2019 में खत्म हो रहा है।

चंदा कोचर पर क्या हैं आरोप?

चंदा कोचर पर आरोप है कि उनके पति दीपक कोचर के चलते ही वीडियोकॉन को आईसीआईसीआई बैंक ने करीब 3200 करोड़ रुपए का लोन दिया था। बाद में वीडियोकॉन इससे में से करीब 2800 करोड़ रुपए की रकम बैंक को लौटाने में नाकाम रहा। हालांकि, चंदा कोचर पर लगे आरोपों का आईसीआईसीआई बैंक ने शुरुआत में बचाव किया था। मगर अब उनके इस्तीफे को लेकर दबाव बढ़ रहा है।

{ यह भी पढ़ें:- ICICI बैंक की CEO चंदा कोचर के पति को आयकर विभाग ने भेजा नोटिस }

इसलिए दिया गया था लोन?

चंदा के पति दीपक कोचर ने अक्षय ऊर्जा में कारोबार के लिए वीडियोकॉन के प्रवर्तक वेणुगोपाल धूत के साथ मिलकर संयुक्त उद्यम बनाया था। बाद में धूत संयुक्त उद्यम से बाहर हो गए। बैंक ने यह स्वीकार किया है कि चंदा कोचर ऋण समिति की उस बैठक में शामिल होने से स्वयं को अलग नहीं कर सकी थी, जिसमें 3,250 करोड़ रुपए का कर्ज वीडियोकॉन समूह को 2012 में दिया गया।

नई दिल्ली। वीडियोकॉन लोन मामले के बाद आईसीआईसीआई बैंक के टॉप मैनेजमेंट में बदलाव होने की खबर पर जल्द ही विराम लग सकता है। पिछले दिनों भी खबर आई थी कि बैंक की सीईओ चंदा कोचर को लंबी छुट्टियों पर भेज दिया गया है। जिसके कुछ दिन बाद ही बैंक की तरफ से  इस खबर का खंडन करते हुए कहा गया कि चंदा कोचर अपनी एनुअल लीव पर गई हैं और ये छुट्टियां उनकी पहले से ही प्लान थी। अब…
Loading...