आम आमदी पार्टी के लखनऊ कार्यालय में लगा ताला, संजय सिंह ने यूपी सरकार पर बोला हमला

sanjay singh
आम आमदी पार्टी के लखनऊ कार्यालय में लगा ताला, संजय सिंह ने सीएम योगी पर लगाया आरोप

लखनऊ। आम आमदी पार्टी के लखनऊ कार्यालय में ताला लग गया है। इसको लेकर राजनीति तेज हो गयी है। आम आमदी पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने सीएम योगी आदित्यनाथ पर गंभीर आरोप लगाए हैं। रविवार संजय सिंह इसी कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस करने जा रहे थे।

Sanjay Singh Locks Up In Lucknow Office Of Aam Aadmi Party Sanjay Singh Accuses Cm Yogi :

गोमतीनगर में स्थित पार्टी कार्यालय में ताला लटका देख संजय सिंह बिफर गए। उन्होंने इसको लेकर प्रदेश सरकार पर हमला बोला। संजय सिंह ने इसको लेकर ट्वीट किया। उन्होंने कहा कि, ‘आम आदमी पार्टी का दफ़्तर बंद कर सकते हैं योगी जी लेकिन सच की आवाज़ नही बंद हो सकती, आपके जुल्म ज़्यादती के ख़िलाफ़ बोलता रहा हूूं और बोलता रहूंगा। बचकाना खेल खेलना बंद करो, लखनऊ में हूं गिरफ़्तार करो।’

वहीं, इस मामले में गोमतीनगर पुलिस का कहना है कि ताला क्यों और किसने लगाया है इसकी जानकारी नहीं है। गोमतीनगर पुलिस ने कहा कि पुलिस पर अनर्गल और निराधार आरोप लगाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हो सकता है मकान मालिक से उनमें किसी बात को लेकर कुछ विवाद हुआ हो। इस बारे में मकान मालिक से पूछताछ के बाद ही मामला स्पष्ट हो सकेगा, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की है।

 

लखनऊ। आम आमदी पार्टी के लखनऊ कार्यालय में ताला लग गया है। इसको लेकर राजनीति तेज हो गयी है। आम आमदी पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने सीएम योगी आदित्यनाथ पर गंभीर आरोप लगाए हैं। रविवार संजय सिंह इसी कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस करने जा रहे थे। गोमतीनगर में स्थित पार्टी कार्यालय में ताला लटका देख संजय सिंह बिफर गए। उन्होंने इसको लेकर प्रदेश सरकार पर हमला बोला। संजय सिंह ने इसको लेकर ट्वीट किया। उन्होंने कहा कि, 'आम आदमी पार्टी का दफ़्तर बंद कर सकते हैं योगी जी लेकिन सच की आवाज़ नही बंद हो सकती, आपके जुल्म ज़्यादती के ख़िलाफ़ बोलता रहा हूूं और बोलता रहूंगा। बचकाना खेल खेलना बंद करो, लखनऊ में हूं गिरफ़्तार करो।' वहीं, इस मामले में गोमतीनगर पुलिस का कहना है कि ताला क्यों और किसने लगाया है इसकी जानकारी नहीं है। गोमतीनगर पुलिस ने कहा कि पुलिस पर अनर्गल और निराधार आरोप लगाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हो सकता है मकान मालिक से उनमें किसी बात को लेकर कुछ विवाद हुआ हो। इस बारे में मकान मालिक से पूछताछ के बाद ही मामला स्पष्ट हो सकेगा, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की है।