मध्यप्रदेश में सरकारी नौकरी पाने वाली पहली ट्रांसजेंडर बनी संजना सिंह

sanjana singh
मध्यप्रदेश में सरकारी नौकरी पाने वाली पहली ट्रांसजेंडर बनी संजना सिंह

भोपाल। मध्यप्रदेश में सरकारी नौकरी पाने वालों में प्रदेश की पहली ट्रांसजेंडर संजना सिंह बनी। संजना सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण विभाग के डायरेक्टर की निज सचिव नियुक्त की गईं हैं।

Sanjna Singh Became First Transgender To Get Government Job :

इस उपलब्धि के साथ, भोपाल में सामाजिक कार्यक्रमों में भाग लेने वाली संजना, सरकारी नौकरी पाने वाली राज्य की पहली ट्रांसजेंडर बन गई हैं.  वह कहती हैं कि 15 साल की उम्र में परिवार छोड़कर ट्रांसजेंडर कम्युनिटी को ज्वाॅइन करना पड़ा, लेकिन अब समाज में मुझे मेरी जगह मिल गई।  

संजना ने कहा, ‘ऐसा हो सकता है कि शायह हमारे समुदाय ने ही समाज की मुख्यधारा में आने के लिए बहुत ज्यादा प्रयास नहीं किए हैं। मुझे लगता है कि इस शुरुआत के साथ समाज में बदलाव आएगा…’

ट्रांसजेंडर्स को आरक्षण के मुद्दे पर संजना ने कहा, ‘यदि दूसरों को आरक्षण दिया जा रहा है तो हमें क्यों नहीं? मेरे लिए यह मौका इस बात को साबित करने का है कि यदि अवसर मिले तो हमारे समुदाय के लोग बहुत कुछ कर सकते हैं।’

बता दें कि ट्रांसजेंडर संजना की मध्य प्रदेश के सामाजिक न्याय और विकलांग कल्याण विभाग में महानिदेशक के निजी सचिव के पद पर नियुक्ति मिली है। गौरतलब है कि इस साल जनवरी में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्रांसजेंडर अप्सरा रेड्डी को महिला कांग्रेस का राष्ट्रीय महासचिव नियुक्त किया था।

भोपाल। मध्यप्रदेश में सरकारी नौकरी पाने वालों में प्रदेश की पहली ट्रांसजेंडर संजना सिंह बनी। संजना सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण विभाग के डायरेक्टर की निज सचिव नियुक्त की गईं हैं।

इस उपलब्धि के साथ, भोपाल में सामाजिक कार्यक्रमों में भाग लेने वाली संजना, सरकारी नौकरी पाने वाली राज्य की पहली ट्रांसजेंडर बन गई हैं.  वह कहती हैं कि 15 साल की उम्र में परिवार छोड़कर ट्रांसजेंडर कम्युनिटी को ज्वाॅइन करना पड़ा, लेकिन अब समाज में मुझे मेरी जगह मिल गई।  

संजना ने कहा, 'ऐसा हो सकता है कि शायह हमारे समुदाय ने ही समाज की मुख्यधारा में आने के लिए बहुत ज्यादा प्रयास नहीं किए हैं। मुझे लगता है कि इस शुरुआत के साथ समाज में बदलाव आएगा...'

ट्रांसजेंडर्स को आरक्षण के मुद्दे पर संजना ने कहा, 'यदि दूसरों को आरक्षण दिया जा रहा है तो हमें क्यों नहीं? मेरे लिए यह मौका इस बात को साबित करने का है कि यदि अवसर मिले तो हमारे समुदाय के लोग बहुत कुछ कर सकते हैं।'

बता दें कि ट्रांसजेंडर संजना की मध्य प्रदेश के सामाजिक न्याय और विकलांग कल्याण विभाग में महानिदेशक के निजी सचिव के पद पर नियुक्ति मिली है। गौरतलब है कि इस साल जनवरी में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्रांसजेंडर अप्सरा रेड्डी को महिला कांग्रेस का राष्ट्रीय महासचिव नियुक्त किया था।