प्यार पर पहरा डालना सास को पड़ा महंगा, प्रेमी के साथ मिलकर बहू ने घोंट दिया गला

woman
प्यार पर पहरा डालना सास को पड़ा महंगा, प्रेमी के साथ मिलकर बहू ने घोंट दिया गला

पटना। बिहार के सारण जिले से एक बड़ी खबर सामने आई है। जहां सास को अपने बहू के प्यार पर पहरा लगाना महंगा पड़ गया। अवैध संबंध का विरोध करने पर प्रेमी के साथ मिलकर पुत्रवधू ने सास की गला दबाकर हत्या कर दी। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। साथ ही मामले की जांच भी शुरू कर दी गई है।

Saran Daughter In Law Murdered Mother In Law In Saran :

थानाध्यक्ष ने बताया कि रामविनोद गिरि के एकमात्र मंदबुद्धि पुत्र मनमोहन उर्फ सोनू की शादी दस साल पूर्व सीवान जिले के पिपरिया जामा बाजार निवासी प्रियंका कुमारी से हुई थी। जिनसे दो पुत्र भी हैं। धन संपत्ति की लालच में लड़की ने मंदबुद्धि लड़के से शादी कर ली। फिर भी अपने रिश्ते के फुफेरा भाई सीवान जिले के पचरूखी थाना के पगुरा मठिया गांव निवासी पिंटू गिरि के साथ अपना आशिकी संबंध बनाए रखा। जिसे मृतका धर्मावती देवी ने विरोध किया। परिणाम स्वरूप उनकी हत्या कर दी गयी।

सूत्रों की मानें तो इसके पूर्व भी धर्मावती को मारने के लिए जहर दिया गया था। इस संबंध में मृतका के पति रामविनोद गिरि की संदिग्ध भूमिका की भी चर्चा है। जिसे भी पुलिस जांच करने में जुटी है कि उनके द्वारा घटना को क्यों छुपाया जा रहा था। पुलिसिया पूछताछ में गिरफ्तार बहू और उसके आशिक भाई ने अपनी संलिप्तता स्वीकार कर ली है। मृतका के भाई रिविलगंज थाना क्षेत्र के गोदना मठिया निवासी कौशल भारती के बयान पर प्राथमिकी दर्ज कर ली गयी है।

पटना। बिहार के सारण जिले से एक बड़ी खबर सामने आई है। जहां सास को अपने बहू के प्यार पर पहरा लगाना महंगा पड़ गया। अवैध संबंध का विरोध करने पर प्रेमी के साथ मिलकर पुत्रवधू ने सास की गला दबाकर हत्या कर दी। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। साथ ही मामले की जांच भी शुरू कर दी गई है। थानाध्यक्ष ने बताया कि रामविनोद गिरि के एकमात्र मंदबुद्धि पुत्र मनमोहन उर्फ सोनू की शादी दस साल पूर्व सीवान जिले के पिपरिया जामा बाजार निवासी प्रियंका कुमारी से हुई थी। जिनसे दो पुत्र भी हैं। धन संपत्ति की लालच में लड़की ने मंदबुद्धि लड़के से शादी कर ली। फिर भी अपने रिश्ते के फुफेरा भाई सीवान जिले के पचरूखी थाना के पगुरा मठिया गांव निवासी पिंटू गिरि के साथ अपना आशिकी संबंध बनाए रखा। जिसे मृतका धर्मावती देवी ने विरोध किया। परिणाम स्वरूप उनकी हत्या कर दी गयी। सूत्रों की मानें तो इसके पूर्व भी धर्मावती को मारने के लिए जहर दिया गया था। इस संबंध में मृतका के पति रामविनोद गिरि की संदिग्ध भूमिका की भी चर्चा है। जिसे भी पुलिस जांच करने में जुटी है कि उनके द्वारा घटना को क्यों छुपाया जा रहा था। पुलिसिया पूछताछ में गिरफ्तार बहू और उसके आशिक भाई ने अपनी संलिप्तता स्वीकार कर ली है। मृतका के भाई रिविलगंज थाना क्षेत्र के गोदना मठिया निवासी कौशल भारती के बयान पर प्राथमिकी दर्ज कर ली गयी है।