भारत बचाओ रैली: राहुल बोले-मैं सावरकर नही जो माफी मागुंगा, PM और शाह मागें देश से माफी

rahul
भारत बचाओ रैली: राहुल बोले-मैं सावरकर नही जो माफी मागुंगा, PM और शाह मागें देश से माफी

नई दिल्ली। कांग्रेस पार्टी की तरफ से आज दिल्ली के रामलीला मैदान में भारत बचाओं रैली का आयोजन किया गया जिसमें देश के विभिन्न भागों से लाखों कांग्रेसी समर्थक एकत्र हुए। इस रैली का आयोजन देश में चल रही आर्थिक मंदी, किसान विरोधी नीतियों, महिलाओं के खिलाफ हिंसा, बेरोजगारी और संविधान पर हमले को लेकर किया गया है। इस मौके पर राहुल गांधी ने कहा मैं सावरकर नही हूं जो माफी मागुंगा, मैं मर जाउंगा पर कभी माफी नही मागुंगा। वहीं उन्होने महंगाई को ​लेकर मोदी सरकार पर जमकर वार किये।

Save India Rally Rahul Said I Am Not Savarkar Who Will Apologize Pm And Shah Ask Forgiveness From The Country :

 

राहुल ने कहा कि मैं देश के लिए अपनी जान देने से नहीं डरतां। मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं जो उनसे माफी मागुंगा। देश से माफी नरेन्द्र मोदी और उनके ​असिस्टेंट अमित शाह को मागनी है। क्यों मांगनी है यह बताने आया हूं। इस देश की आत्मा, इस देश की शक्ति इसकी अर्थव्यवस्था थी। जिसे पहले सोने की चिड़िया कहा जाता था वहां आज प्याज के लिए मारा मारी है, प्याज आज 200 रूपये किलो बिक रहा है।

राहुल ने कहा मोदी सरकार ने सिर्फ अमीरो का कर्जा माफ किया है। आपसे टेलीफोन इस्तेमाल करने का 50 प्रतिशत पैसा बढ़ा देंगे, लेकिन अमीरों का कर्जा माफ कर देंगे। इस देश का सबसे ज्यादा नुकसान किसी और ने नहीं बल्कि प्रधानमंत्री ने किया। पिछले पांच साल में नरेंद्र मोदी ने अडानी को 50 कॉन्ट्रैक्ट दिए हैं। देश के एयरपोर्ट पकड़ा दिए। ये कॉन्ट्रैक्ट क्यों दिए, 1 लाख 40 हजार करोड़ रुपए, 15-20 लोगों का कर्ज माफ किया है।

हमने राज्यों में कर्जा माफ क्यों किया, हम सही एमएसपी क्यों देते हैं क्योंकि हम जानते हैं कि किसान के बिना अर्थव्यवस्था आगे जा ही नहीं सकती। मनरेगा हमने क्यों दिया क्योंकि हम जानते हैं कि मजदूरों के बिना देश आगे नहीं जा सकता। उन्होने कहा कि जम्मू-कश्मीर और नॉर्थ-ईस्ट में जाइए देखिए नरेन्द्र मोदी ने क्या काम किया है। आग लगा दिया है, बांटने का काम करते हैं देश को कमजोर करने का काम करते हैं।

मैं देश से कहना चाहता हूं कि सब लोग इस देश को मिलकर खड़ा करते हैं। यह आपका खून-पसीना है और आपके देश को कमजोर किया जा रहा है। देश को बांटने के साथ साथ अर्थव्यवस्था को भी कमजोर किया जा रहा हैं। ये लोग सत्ता के लिए अर्थव्यवस्था को नष्ट कर देंगे। हिन्दुस्तान की अर्थव्यवस्था मोदी ने स्वयं अकेले नष्ट कर दी। मोदी सरकार ने झूठ कहा कि कालेधन से लड़ाई है, भ्रष्टाचार को खत्म करना है। गब्बर सिंह टैक्स लगाकर देश की जीडीपी गिरा दी। हिन्दुस्तान के सब दुश्मन चाहते थे कि हिन्दुस्तान की अर्थव्यवस्था नष्ट हो, जो दुश्मनों ने नहीं किया वो काम हमारे प्रधानमंत्री ने कर दिया।

नई दिल्ली। कांग्रेस पार्टी की तरफ से आज दिल्ली के रामलीला मैदान में भारत बचाओं रैली का आयोजन किया गया जिसमें देश के विभिन्न भागों से लाखों कांग्रेसी समर्थक एकत्र हुए। इस रैली का आयोजन देश में चल रही आर्थिक मंदी, किसान विरोधी नीतियों, महिलाओं के खिलाफ हिंसा, बेरोजगारी और संविधान पर हमले को लेकर किया गया है। इस मौके पर राहुल गांधी ने कहा मैं सावरकर नही हूं जो माफी मागुंगा, मैं मर जाउंगा पर कभी माफी नही मागुंगा। वहीं उन्होने महंगाई को ​लेकर मोदी सरकार पर जमकर वार किये।   राहुल ने कहा कि मैं देश के लिए अपनी जान देने से नहीं डरतां। मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं जो उनसे माफी मागुंगा। देश से माफी नरेन्द्र मोदी और उनके ​असिस्टेंट अमित शाह को मागनी है। क्यों मांगनी है यह बताने आया हूं। इस देश की आत्मा, इस देश की शक्ति इसकी अर्थव्यवस्था थी। जिसे पहले सोने की चिड़िया कहा जाता था वहां आज प्याज के लिए मारा मारी है, प्याज आज 200 रूपये किलो बिक रहा है। राहुल ने कहा मोदी सरकार ने सिर्फ अमीरो का कर्जा माफ किया है। आपसे टेलीफोन इस्तेमाल करने का 50 प्रतिशत पैसा बढ़ा देंगे, लेकिन अमीरों का कर्जा माफ कर देंगे। इस देश का सबसे ज्यादा नुकसान किसी और ने नहीं बल्कि प्रधानमंत्री ने किया। पिछले पांच साल में नरेंद्र मोदी ने अडानी को 50 कॉन्ट्रैक्ट दिए हैं। देश के एयरपोर्ट पकड़ा दिए। ये कॉन्ट्रैक्ट क्यों दिए, 1 लाख 40 हजार करोड़ रुपए, 15-20 लोगों का कर्ज माफ किया है। हमने राज्यों में कर्जा माफ क्यों किया, हम सही एमएसपी क्यों देते हैं क्योंकि हम जानते हैं कि किसान के बिना अर्थव्यवस्था आगे जा ही नहीं सकती। मनरेगा हमने क्यों दिया क्योंकि हम जानते हैं कि मजदूरों के बिना देश आगे नहीं जा सकता। उन्होने कहा कि जम्मू-कश्मीर और नॉर्थ-ईस्ट में जाइए देखिए नरेन्द्र मोदी ने क्या काम किया है। आग लगा दिया है, बांटने का काम करते हैं देश को कमजोर करने का काम करते हैं। मैं देश से कहना चाहता हूं कि सब लोग इस देश को मिलकर खड़ा करते हैं। यह आपका खून-पसीना है और आपके देश को कमजोर किया जा रहा है। देश को बांटने के साथ साथ अर्थव्यवस्था को भी कमजोर किया जा रहा हैं। ये लोग सत्ता के लिए अर्थव्यवस्था को नष्ट कर देंगे। हिन्दुस्तान की अर्थव्यवस्था मोदी ने स्वयं अकेले नष्ट कर दी। मोदी सरकार ने झूठ कहा कि कालेधन से लड़ाई है, भ्रष्टाचार को खत्म करना है। गब्बर सिंह टैक्स लगाकर देश की जीडीपी गिरा दी। हिन्दुस्तान के सब दुश्मन चाहते थे कि हिन्दुस्तान की अर्थव्यवस्था नष्ट हो, जो दुश्मनों ने नहीं किया वो काम हमारे प्रधानमंत्री ने कर दिया।