नोटबंदी के दौरान सेफगार्ड कंपनी ने SBI को लगाया 71.56 लाख का चूना, FIR दर्ज

लखनऊ। नोटबंदी के दौरान जहां देशभर की जनता लाइनों में लगी थी वहीं एटीएम में पैसा डालने वाली कंपनी राइटर सेफगार्ड प्राइवेट लिमिटेड के कुछ कर्मचारी स्टेट बैंक आॅफ इंडिया (SBI) को चूना लगाने में जुटे थे। विभागी जांच के बाद स्टेट बैंक ने कंपनी के छह लोगों के खिलाफ आगरा के रकाबगंज थाने में मुकदमा दर्ज करवाया है।




मिली जानकारी के मुताबिक नोटबंदी के दौरान आगरा की स्टेट बैंक की मुख्य शाखा के चेस्ट से नोट लेकर एटीएम में डालने का काम करने वाली कंपनी सेफगार्ड के छह कर्मचारियों ने बैंक को 71 लाख 56 हजार का चूना लगा दिया। जब बैंक ने हिसाब लगाया तो कंपनी को उस समय बैंक से पांच करोड़ 50 लाख रुपए की करेंसी एटीएम में डालने के लिए दी गई थी। लेजर मिलान करने पर इस रकम में से 71 लाख 56 हजार रुपए का हिसाब कंपनी के कर्मचारी नहीं दे पाए।




जिसके बाद करीब सात महीनों तक चली जांच में सेफगार्ड कंपनी के कर्मचारियों को इस रकम के गवन का दोषी पाया गया और सभी छह के खिलाफ बैंक की ओर से बुधवार को आगरा के रकाबगंज थाने में एफआईआर दर्ज करवा दी गई।

{ यह भी पढ़ें:- बैंक के इस नए नियम को लागू होते ही रद्द हो जाएगी आपकी चेकबुक }

Loading...