1. हिन्दी समाचार
  2. स्वेटर वितरण में घोटाला: प्रदेश के कई जिलों में हो रही धांधली, लखनऊ में फर्म संचालक पर FIR

स्वेटर वितरण में घोटाला: प्रदेश के कई जिलों में हो रही धांधली, लखनऊ में फर्म संचालक पर FIR

By शिव मौर्या 
Updated Date

Scam In Sweater Distribution Fraud On Firm Operator In Lucknow Rigging In Many Districts Of The State

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों में बच्चों के स्वेटर वितरण में फर्म संचालक से लेकर बेसिक शिक्षा के अधिकारी खेल कर रहे हैं। इनकी मिलीभगत से बच्चों को सही समय पर स्वेटर तक नहीं पहुंच पाए, जिसके कारण वह बिना स्वेटर स्कूल जाने को बेवश हैं। यूपी के कई जिलों में स्वेटर वितरण को लेकर फर्जीवाड़ा उजागर हो चुका है लेकिन अधिकारी इसको लेकर बेफ्रिक दिख रहे हैं।

पढ़ें :- मध्य प्रदेश: इंदौर में 5 दिन बढ़ाया गया कोरोना कर्फ्यू, बढ़ते आंकड़ों के बाद आगे बढ़ी बंदी

राजधानी लखनऊ के प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों में बच्चों के स्वेटर वितरण में फर्जीवाड़ा सामने आया है। बेसिक शिक्षा अधिकारी ने इस मामले में कानपुर की फर्म एनएन इंडस्ट्रीज के संचालक अशोक कुमार सुरेखा के खिलाफ वजीरगंज कोतवाली में एफआइआर दर्ज कराई है। ​बेसिक शिक्षा अधिकारी का आरोप है कि एनएन इंडस्ट्रीज की ओर से न्यूनतम दर में सप्लाई का ठेका लिया गया था।

16 नवंबर को स्वेटर की आपूर्ति के लिए क्रय आदेश जारी हुआ था। इसके बाद फर्म को स्वेटर​ वितरण की कार्य योजना और सिक्योरिटी मनी जमा करने के लिए कहा गया था। इसके बावजूद 25 नवंबर 2019 को फर्म की ओर से कोई व्यक्ति जिलाधिकारी के समक्ष उपस्थित नहीं हुआ था। यही नहीं फर्म ने स्वेटर के लक्ष्य 1,86,040 की जगह अंतिम तिथि एक दिसंबर तक महज 44 हजार 649 स्वेटर की आपूर्ति की।

फर्म की लापरवाही उजागर होने के बाद जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जिला स्तरीय समिति के निर्णय और जिला शासकीय अधिवक्ता के विधिक परामर्श के बाद फर्म के संचालक पर एफआइआर दर्ज करने का निर्णय लिया गया। तहरीर के आधार पर पुलिस ने आजाद नगर कानपुर निवासी फर्म के संचालक अशोक कुमार सुरेखा पर एफआइआर दर्ज की है। आरोपित के खिलाफ धोखाधड़ी, कूटरचित दस्तावेज बनाने, अमानत में खयानत समेत विभिन्न धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की गई है।

पढ़ें :- ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र 110 प्रतिशत की क्षमता के साथ कर रहे हैं काम : पीयूष गोयल

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...