SCO शिखर सम्मेलन के मंच से मोदी ने दिखाया पाकिस्तान को आईना

नई दिल्ली। कजाकिस्तान की राजधानी अस्ताना में आयोजित शंघाई को-ऑपरेशन ऑर्गनाइजेशन (SCO) शिखर सम्मेलन के दौरान भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने एक साथ मंच साझा किया। इस दौरान मोदी ने आतंकवाद पर पाकिस्तान को आईना दिखते हुए अपनी बात मजबूती से रखा। मोदी और नवाज के सम्बोधन में एक दिलचस्प बात देखने को मिली। जहां एक तरफ पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने अपने भाषण में दौरान दो बार भारत का जिक्र किया वहीं मोदी पाक को आईना दिखाते हुए बहिष्कार के मूड में दिखे।



SCO समिट को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आतंकवाद मानवाधिकारों और मानव मूल्यों का सबसे बड़ा दुश्मन है। लिहाजा सभी देशों को मिलकर इसके खिलाफ लड़ना चाहिए और जब तक आतंकियों को आर्थिक मदद और प्रशिक्षण के खिलाफ लड़ाई में सभी एकजुट नहीं होते हैं, तब तक इसके समाधान निकाल पाना संभव नहीं हैं। उन्होंने कहा कि सभी देशों के साथ हमारे संबंध ऐतिहासिक हैं। मोदी ने कहा कि पर्यावरण को लेकर भी SCO अपना ध्यान केंद्रित कर सकता है। वहीं, SCO के मंच पर नवाज शरीफ नरम नजर आए। उन्होंने पीएम मोदी के बाद SCO समिट को सम्बोधन के दौरान पहले SCO में शामिल होने की बधाई दी, लेकिन इससे पहले भारत ने पाकिस्तान कोई तवज्जों नहीं दी। समिट में पाकिस्तानी पीएम ने कहा कि SCO सदस्यों के बीच अच्छे रिश्ते बेहद जरूरी हैं। शरीफ ने कहा कि पाकिस्तान आतंक का पीड़ित रहा है ऐसे में SCO आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में अहम भूमिका निभाएगा। इस दौरान उन्होंने वन बेल्ट वन रोड का भी जिक्र किया।



{ यह भी पढ़ें:- वायुसेना प्रमुख मार्शल बी.एस. धनोआ बोले- युद्ध के लिए हम हमेशा तैयार हैं }

अंतरराष्ट्रीय मंच पर अक्सर भारत का विरोध करने वाला पाकिस्तान इस बार बदल-बदल नजर आया। उसने विरोध करने की बजाय बधाई दी। दिलचस्प बात यह है कि भारत के इसमें शामिल होने से चीन का प्रभुत्व कम होगा। वहीं, बृहस्पतिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से भी मुलाकात की। इस दौरान पीएम मोदी ने SCO में भारत की सदस्यता के लिए समर्थन और प्रयास करने के लिए चीनी राष्ट्रपति का शुक्रिया अदा किया।

{ यह भी पढ़ें:- PM मोदी का दो दिवसीय गुजरात दौरा, द्वारकाधीश मंदिर में पूजा अर्चना से शुरुआत }