SDM को आधी रात में करनी पड़ी महिला मित्र से शादी, चौंकाने वाली थी वजह

MARRY
SDM को आधी रात में करनी पड़ी महिला मित्र से शादी, चौंकाने वाली थी वजह

कुशीनगर। उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां शुक्रवार देर रात एक एसडीएम को यौन शोषण का आरोप लगाने वाली अपनी महिला मित्र से शादी रचानी पड़ी। यह शादी पडरौना नगर के गायत्री मंदिर में हिंदू रीति रिवाज से हुई। शादी में गवाह के रूप में पडरौना सदर एसडीएम रामकेश यादव और हाटा के एसडीएम प्रमोद तिवारी मौजूद रहे।

Sdm Had To Marry A Girlfriend In The Middle Of The Night The Reason Was Shocking :

जानकारी के मुताबिक खड्डा तहसील में एसडीएम रहे दिनेश कुमार की महिला मित्र ने उनपर शादी का झांसा देकर शारीरिक शोषण करने का आरोप लगाया था। महिला का आरोप है कि शादी का झांसा देकर एसडीएम चार साल तक उसका शारीरिक शोषण करते रहे और कई बार उसका गर्भपात की कराया। पीड़िता की मानें तो शादी का दबाव बनाने पर एसडीएम ने उसकी बुरी तरह पिटाई भी की।

शुक्रवार को कलेक्ट्रेट के एडीएम ऑफिस में यह फिल्मी ड्रामा दिन भर चलता रहा। इस मामले में खुद को बुरी तरह से घिरता देख एसडीएम शादी के लिए राजी हुए, जिसके बाद देर रात पडरौना नगर के गायत्री मंदिर में हिंदू रीति रिवाज से दोनों की बाकायदा शादी कराई गई। शादी में गवाह के रूप में पडरौना सदर एसडीएम रामकेश यादव और हाटा के एसडीएम प्रमोद तिवारी बने।

बता दें कि पूर्व में खड्डा तहसील में तैनात रहे एसडीएम दिनेश कुमार पर महिला ने शादी का झांसा देकर शोषण का गंभीर आरोप लगाया था। कुछ दिन पूर्व दिनेश कुमार का ट्रांसफर हापुड़ हो गया था। शुक्रवार को जब वो अपना सामान लेने आए तो साथ में रह रही महिला ने उन पर शादी करने का दबाव बनाया। लेकिन एसडीएम इससे मुकर गये तो महिला ने उनकी शिकायत करने का मन बनाया।

आजमगढ़ जनपद के ग्राम बुढ़नपुर के रहने वाले दिनेश कुमार की इससे पहले पोस्टिंग कुशीनगर जनपद के खड्डा तहसील में उपजिलाधिकारी के पद पर थी। गायत्री मंदिर पडरौना के पुजारी सुरेश मिश्रा ने शादी संपन्न कराई। शादी कराने वाले पंडित सुरेश मिश्रा ने कहा कि यह खड्डा के एसडीएम दिनेश कुमार थे जिनकी शादी अभी हुई है। इन दोनों में विवाह को लेकर कुछ अनबन थी। डीएम व अन्य अधिकारियों के कहने पर तुरंत शादी करा दी गई।

कुशीनगर। उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां शुक्रवार देर रात एक एसडीएम को यौन शोषण का आरोप लगाने वाली अपनी महिला मित्र से शादी रचानी पड़ी। यह शादी पडरौना नगर के गायत्री मंदिर में हिंदू रीति रिवाज से हुई। शादी में गवाह के रूप में पडरौना सदर एसडीएम रामकेश यादव और हाटा के एसडीएम प्रमोद तिवारी मौजूद रहे। जानकारी के मुताबिक खड्डा तहसील में एसडीएम रहे दिनेश कुमार की महिला मित्र ने उनपर शादी का झांसा देकर शारीरिक शोषण करने का आरोप लगाया था। महिला का आरोप है कि शादी का झांसा देकर एसडीएम चार साल तक उसका शारीरिक शोषण करते रहे और कई बार उसका गर्भपात की कराया। पीड़िता की मानें तो शादी का दबाव बनाने पर एसडीएम ने उसकी बुरी तरह पिटाई भी की। शुक्रवार को कलेक्ट्रेट के एडीएम ऑफिस में यह फिल्मी ड्रामा दिन भर चलता रहा। इस मामले में खुद को बुरी तरह से घिरता देख एसडीएम शादी के लिए राजी हुए, जिसके बाद देर रात पडरौना नगर के गायत्री मंदिर में हिंदू रीति रिवाज से दोनों की बाकायदा शादी कराई गई। शादी में गवाह के रूप में पडरौना सदर एसडीएम रामकेश यादव और हाटा के एसडीएम प्रमोद तिवारी बने। बता दें कि पूर्व में खड्डा तहसील में तैनात रहे एसडीएम दिनेश कुमार पर महिला ने शादी का झांसा देकर शोषण का गंभीर आरोप लगाया था। कुछ दिन पूर्व दिनेश कुमार का ट्रांसफर हापुड़ हो गया था। शुक्रवार को जब वो अपना सामान लेने आए तो साथ में रह रही महिला ने उन पर शादी करने का दबाव बनाया। लेकिन एसडीएम इससे मुकर गये तो महिला ने उनकी शिकायत करने का मन बनाया। आजमगढ़ जनपद के ग्राम बुढ़नपुर के रहने वाले दिनेश कुमार की इससे पहले पोस्टिंग कुशीनगर जनपद के खड्डा तहसील में उपजिलाधिकारी के पद पर थी। गायत्री मंदिर पडरौना के पुजारी सुरेश मिश्रा ने शादी संपन्न कराई। शादी कराने वाले पंडित सुरेश मिश्रा ने कहा कि यह खड्डा के एसडीएम दिनेश कुमार थे जिनकी शादी अभी हुई है। इन दोनों में विवाह को लेकर कुछ अनबन थी। डीएम व अन्य अधिकारियों के कहने पर तुरंत शादी करा दी गई।