1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. गोरखपुर: 72 घंटे में दूसरी हत्या, रामगढ़ताल में वेटर को दबंगो ने पीट-पीट कर मारा

गोरखपुर: 72 घंटे में दूसरी हत्या, रामगढ़ताल में वेटर को दबंगो ने पीट-पीट कर मारा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का क्षेत्र गोरखपुर एक बार फिर से चर्चाओं में है। दो दिन पहले होटल में कानपुर के व्यापारी मनीष गुप्ता की हत्या के 72 घंटे बीतें नहीं थे कि इसी क्षेत्र से दूसरी बड़ी सनसनीखेज वारदात हो गई। इस घटना के बाद कानून व्यवस्था को दुरुस्त करने का दावा करने वाली यूपी सरकार फिर से विपक्ष के निशाने पर है।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का क्षेत्र गोरखपुर (Gorakhpur) एक बार फिर से चर्चाओं में है। दो दिन पहले होटल में कानपुर के व्यापारी मनीष गुप्ता की हत्या के 72 घंटे बीतें नहीं थे कि इसी क्षेत्र से दूसरी बड़ी सनसनीखेज वारदात हो गई। इस घटना के बाद कानून व्यवस्था को दुरुस्त करने का दावा करने वाली यूपी सरकार फिर से विपक्ष के निशाने पर है। ये घटना उसी थाना क्षेत्र में हुई जहां मनीष गुप्ता की बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। वारदात की वीडियो (Video) वायरल होने पर विपक्ष लगातार सरकार को घेरने में जुट गई है। दरअसल इस घटना में मारे गये युवक का नाम भी मनीष प्रजापति है(Manish Prajapati), जिसे दबंगो ने बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया।

पढ़ें :- Rat Massacre: पहली बार हुआ चूहे का पोस्टमार्टम, खुला मौत का राज

बता दें कि मामला रामगढ़ताल स्थित एक मॉडल शॉप का है, जहां बीती रात कुछ लोग शराब पीने आये थे। शराब पीने के बाद जब वहां काम करने वाले कर्मचारी मनीष ने उनसे पैसे मांगा तो उन्होंने पैसा (Money) देने से इनकार कर दिया। इसको लेकर ही दोनो पक्षों के बीच कहासुनी होने लगी।। फिर वो लोग वहां से चले गये। थोड़ी देर बाद उनके साथ लौट के आये कुछ और दबंगों ने मनीष के साथ मारपीट शुरु कर दी। वीडियो में साफतौर पर दिख रहा है कि मनीष की पिटाई लाठी डंडो से की जा रही है। दबंगो ने वेटर को इतना मारा कि मौका ए वारदात पर ही उसकी मृत्यु हो गयी। आपको बता दें कि फारेंसिक (Forensic) की जांच टीम वहां पहुंच गई है। पुलिस मौके पर खेाजबीन में जुटी हुई है। वीडियो के माध्यम से ये पहचानने की कोशिश की जा रही ​है कि आखिर वो लोग कौन(Who) थे। सूत्रों से मिली ताजा जानकारी के मुताबिक पुलिस आरोपियों के ऊपर रासुका के तहत कार्यवाई करेगी।

पढ़ें :- UP News: नवगठित कमिश्नरेट में अफसरों की तीन दिन बाद भी तैनाती नहीं, कई बैठकों के बाद भी नहीं हुआ निर्णय

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...