यूपी सरकार को एक और बड़ा झटका, हाईकोर्ट ने दिया उप्र लोक सेवा आयोग के सचिव को हटाने का आदेश

Secretary Of Uttar Pradesh Public Service Commission

इलाहाबाद: अखिलेश सरकार को एक और बड़ा झटका देते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट ने शुक्रवार को उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग के सचिव रिजवान उल रहमान को हटाने का आदेश दिया, कोर्ट ने सरकार से एक हफ्ते में आईएएस अफसर को तैनात करने के लिए कहा|

आपको बता दें कि हाईकोर्ट में एक याचिका दायर कर कहा गया है कि सचिव रिजवानुल रहमान अपने पद की योग्यता नहीं रखते। मांग की गई थी कि उन्हें काम करने से तत्काल रोका जाए। प्रतियोगी छात्र संघर्ष समिति के अध्यक्ष अयोध्या प्रसाद सिंह की ओर से दाखिल इस याचिका में आधार लिया गया है कि आयोग में सचिव का पद आइएएस स्तर का है।

भारत सरकार ने यह योग्यता निर्धारित कर रखी है। यह भी निर्धारित है कि इस पद को सुपर टाइम स्केल वाला अधिकारी ही धारित कर सकता है। वर्तमान सचिव अगस्त- 14 से इस पद पर काम कर रहे हैं जो इस पद के योग्य नहीं हैं। वह परिवीक्षा अधिकारी के रूप में कार्यरत रहे, जो यूडीए स्तर का पद है। मांग की गई है कि उनकी नियुक्ति को अवैध करार दिया जाए|

इलाहाबाद: अखिलेश सरकार को एक और बड़ा झटका देते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट ने शुक्रवार को उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग के सचिव रिजवान उल रहमान को हटाने का आदेश दिया, कोर्ट ने सरकार से एक हफ्ते में आईएएस अफसर को तैनात करने के लिए कहा| आपको बता दें कि हाईकोर्ट में एक याचिका दायर कर कहा गया है कि सचिव रिजवानुल रहमान अपने पद की योग्यता नहीं रखते। मांग की गई थी कि उन्हें काम करने से तत्काल रोका जाए।…