1. हिन्दी समाचार
  2. कांग्रेस में बदलाव से पहले जिलों का दौरा करेंगे सचिव

कांग्रेस में बदलाव से पहले जिलों का दौरा करेंगे सचिव

Secretaryi To Visit Districts Before Change In Uttar Pradesh Congress

By पर्दाफाश समूह 
Updated Date

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में संगठन में बड़े बदलाव से पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी से संबद्ध सभी सचिव जिलों का दौरा करेंगे। उन्होंने अपने सचिवों से जिलों का दौरा कर स्थानीय पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं से पार्टी को मजबूत करने के बारे में रायशुमारी करने को कहा है।

पढ़ें :- काशी पूरे विश्‍व को प्रकाश देने वाली है, यहां की गलियां जीवंत और ऊर्जावान हैं : पीएम मोदी

प्रियंका गांधी इन दिनों लगातार बैठक कर हालिया लोकसभा चुनाव में पार्टी की हार के कारणों के साथ ही वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए मजबूत पार्टी संगठन बनाने पर चर्चा कर रही हैं। इसी क्रम में उन्होंने रविवार को नई दिल्ली में लगातार दूसरे दिन लोकसभा चुनाव में तैनात किए गए कोआर्डिनेटरों के साथ बैठक की।

इस बैठक में उन्होंने संगठन में भारी बदलाव के संकेत दिए हैं। सूत्रों के अनुसार प्रियंका गांधी ने बैठक में कहा कि वह संगठन में महज बदलाव के लिए कोई फेरबदल नहीं करना चाहती हैं बल्कि वह चाहती हैं कि इस बार बदलाव जमीनी स्तर पर ठोक बजा कर हो। जिससे पार्टी को हर हाल में मजबूती मिले।

पार्टी संगठन खड़ा हो सके। उन्होंने लोकसभा चुनाव में ईमानदारी से पार्टी के लिए अच्छा काम करने वालों के नाम भी देने को कहा है। उम्मीद की जा रही है कि इन्हीं लोगों को आगे चलकर संगठन में जिम्मेदारी दी जाएगी। यही कारण है कि उन्होंने अपनी टीम में शामिल सचिव सचिन नायक और बाजीराव खाडे को अपने अपने क्षेत्रों का दौरा करने को कहा है।

ये लोग जिला.शहर अध्यक्ष के लिए भी नाम देंगे। प्रियंका गांधी समीक्षा बैठकों में पार्टी की जमीनी हकीकत से भी वाकिफ हो रही हैं। रोजाना कोई नई बात सामने आ रही है। मसलन वाराणसी मण्डल के एक जिले के बारे में कोआर्डिनेटर ने बताया कि वहां का जिला अध्यक्ष एक बड़े नेता का ड्राइवर है।

पढ़ें :- रोहित शर्मा के बिना टीम इंडिया अधूरी, ज्यादातर मैचों में मिली हार, आंकड़े जानकर हो जायेंगे हैरान

इस पर प्रियंका ने गोरखपुर मण्डल के एक जिले का नाम लेकर कहा कि वहां भी ऐसा है। फैजाबाद मण्डल के एक जिले में एक बड़े नेता ने अपने विद्यालय के शिक्षक को ही अध्यक्ष बना दिया है। उन्होंने कहा कि उन्हें सारी जानकारी है कि किस तरह जिलों में पार्टी संगठन जेबी या कागजी हो कर रह गए हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...