जम्मू कश्मीर: कुलगाम मुठभेड़ में लैफ्टीनेंट का हत्या लश्कर कमांडर ढ़ेर

ishfaq padder
जम्मू कश्मीर: कुलगाम मुठभेड़ में लैफ्टीनेंट का हत्या लश्कर कमांडर ढ़ेर

नई दिल्ली। ​दक्षिणी कश्मीर के कुलगाम के बेहीबाग इलाके में शनिवार की सुबह सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में लश्कर के लोकल कमांडर इश्फाक पढ़ेर को मार गिराया गया है। सुरक्षा बल मई के महीने में हुई लैफ्टीनेंट उम्मेर फयाज की हत्या के मामले में इश्फाक की तलाश कर रहे थे। वहीं बकरीद के मौके पर हुए इस एनकाउंटर के बाद दक्षिणी कश्मीर के कई शहरों में हिंसा की खबरें सामने आ रहीं हैं। कई जगह सुरक्षाबलों और स्थानीय भीड़ के बीच झड़प की खबरें आई हैं।

Security Forces Killed Lashkar Commander Ishfaq Padder In An Encountered :

वहीं दूसरी ओर लश्कर के आतंकियों के खिलाफ सुरक्षाबलों के बीच श्रीनगर के पंथा चौक पर भी आॅपरेशान चला रही है। बकरीद से ठीक पहले शुक्रवार की शाम पंथा चौक पर पुलिस के जवानों से भरी एक बस पर हमला हुआ था। जिसमें एक जवान शहीद हो गया था, जबकि आठ को गंभीर अवस्था में इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

बताया जा रहा है पंथा चौक के पास किसी इमारत में आतंकियों को घेर लिया गया है। सुरक्षाबलों ने इमारत को घेर रखा है। बेहद भीड़भाड़ वाला इलाका है। बकरीद को देखते हुए शनिवार को होने वाली समूहिक नमाज व अन्य आयोजनों के चलते सेना ने आतंकियों को घेरे में ले रखा है। इलाके में इंटरनेट सेवाओं को भी बंद कर दिया गया है। बकरीद की नमाज के बाद आतंकवादियों की मदद के लिए स्थानीय लोगों ने सुरक्षाबलों पर पथराव भी किया है लेकिन स्थानीय पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागकर प्रदर्शनकारियों को पीछे हटने के लिए मजबूर कर दिया।

नई दिल्ली। ​दक्षिणी कश्मीर के कुलगाम के बेहीबाग इलाके में शनिवार की सुबह सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में लश्कर के लोकल कमांडर इश्फाक पढ़ेर को मार गिराया गया है। सुरक्षा बल मई के महीने में हुई लैफ्टीनेंट उम्मेर फयाज की हत्या के मामले में इश्फाक की तलाश कर रहे थे। वहीं बकरीद के मौके पर हुए इस एनकाउंटर के बाद दक्षिणी कश्मीर के कई शहरों में हिंसा की खबरें सामने आ रहीं हैं। कई जगह सुरक्षाबलों और स्थानीय भीड़ के बीच झड़प की खबरें आई हैं।वहीं दूसरी ओर लश्कर के आतंकियों के खिलाफ सुरक्षाबलों के बीच श्रीनगर के पंथा चौक पर भी आॅपरेशान चला रही है। बकरीद से ठीक पहले शुक्रवार की शाम पंथा चौक पर पुलिस के जवानों से भरी एक बस पर हमला हुआ था। जिसमें एक जवान शहीद हो गया था, जबकि आठ को गंभीर अवस्था में इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।बताया जा रहा है पंथा चौक के पास किसी इमारत में आतंकियों को घेर लिया गया है। सुरक्षाबलों ने इमारत को घेर रखा है। बेहद भीड़भाड़ वाला इलाका है। बकरीद को देखते हुए शनिवार को होने वाली समूहिक नमाज व अन्य आयोजनों के चलते सेना ने आतंकियों को घेरे में ले रखा है। इलाके में इंटरनेट सेवाओं को भी बंद कर दिया गया है। बकरीद की नमाज के बाद आतंकवादियों की मदद के लिए स्थानीय लोगों ने सुरक्षाबलों पर पथराव भी किया है लेकिन स्थानीय पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागकर प्रदर्शनकारियों को पीछे हटने के लिए मजबूर कर दिया।