बलात्कारी बाबा गुरुमीत की बेटी हनीप्रीत के खिलाफ दर्ज हुआ देशद्रोह का केस, रचा था ये षड्यंत्र

Haniprit
बलात्कारी बाबा गुरुमीत की बेटी हनीप्रीत के खिलाफ दर्ज हुआ देशद्रोह का केस, रचा था ये षड्यंत्र

नई दिल्ली। दो साध्वियों के शारीरिक शोषण के मामले में 20 साल की सजा पा चुके बलात्कारी बाबा गुरूमीत राम रहीम के बाद ​हरियाणा सरकार ने उसकी मुंह बोली और गोद ली हुई बेटी हनीप्रीत के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज किया है। अब तक अंडर ग्राउंड बताई जा रही हनीप्रीत के देश छोड़कर भागने की संभावनाओं के चलते सरकार ने उसके खिलाफ लुकआउट नोटिस भी जारी कर दिया है। आरोप है कि हनीप्रीत ने बलात्कार के मामले में दोषी करार दिए गए बाबा को अदालत से भगाने का षड्यंत्र रचा था। इसी षड्यंत्र के तहत बाबा के गार्ड ने एक आईपीएस अधिकारी को थप्पड़ भी मारा था।

मिली जानकारी के मुताबिक आईपीएस अधिकारी को थप्पड़ मारने के बाद हिरासत में लिए गए बाबा के बॉडीगार्ड से पुलिस की पूछ ताछ में सारा सच उगला है। बॉडीगार्ड के माध्यम से सामने आई जानकारी के मुताबिक हनीप्रीत ने बाबा को कोर्ट से भगाने का पूरा प्लान तैयार कर रखा था। लेकिन मौके पर मौजूद पुलिस अधिकारियों की सूझबूझ के चलते प्लानिंग धरी की धरी रह गई।

{ यह भी पढ़ें:- जेल में सब्जियां उगा रहा 'बलात्कारी बाबा', 20 रुपये मिलती है दिहाड़ी }

बलात्कारी बाबा के साथ कई फिल्मों में काम कर चुकी हनीप्रीत इंसा का वास्तविक नाम प्रियंका गुप्ता है जो हरियाणा के फतेहाबाद की रहने वाली है। हनीप्रीत के मां—बाप बाबा के अनन्य भक्तों में बताए जाते हैं। जिन्होंने सपरिवार स्वयं को डेरा को समर्पित कर दिया था। प्रियंका को बाबा ने गोद लेकर न सिर्फ अपनी बेटी बनाया बल्कि उसे हनीप्रीत इंसा नाम भी दिया। हनीप्रीत की पहचान बाबा के सबसे करीबी और डेरा में बाबा के बाद सबसे शक्तिशाली बताई जाती है। बाबा के मेकओवर के पीछे हनीप्रीत का ही हाथ बताया जाता है।

हनीप्रीत और बाबा के रिश्ते को लेकर हैं कई कहानियां—

{ यह भी पढ़ें:- मीडिया के सवालों पर भड़का आसाराम, खुद को बता बैठा गधा }

बलात्कारी बाबा की गिरफ्तारी के साथ सामने आई तमाम खबरों के बीच एक बाबा और हनीप्रीत के रिश्तों ने सबसे ज्यादा सुर्खियां बटोरी। हनीप्रीत को गोद लेकर बेटी बनाने से लेकर उसकी शादी और तलाक तक की कहानी बेहद चौकाने वाली बताई जाती है। हनीप्रीत को तलाक देने वाले उसके पति ने सार्वजनिक रूप से बाबा पर हनीप्रीत के साथ जिश्मानी रिश्ते होने का आरोप लगाया था। ऐसे आरोप बाबा के डेरा प्रमुख बनने के बाद डेरा छोड़कर जाने वाले कई डेरा समर्थक भी लगा चुके हैं। कहा जाता है कि बाबा को हनीप्रीत ने पूरी तरह से अपने वश में कर रखा था। बाबा को फिल्में बनाने और पॉप गायक बनने का आइडिया हनीप्रीत के दिमाग की ही उपज थी। जिससे बाबा को मोटा मुनाफा भी हुआ।

हीनप्रीत के बताए रास्ते पर चलकर बाबा को नई प्रसिद्धी मिली उससे नए समर्थक ​जुड़ने के साथ हो रहे आर्थिक लाभ ने बाबा की हनीप्रीत पर निर्भरता को बढ़ा दिया। जिसके बाद बाबा हीनप्रीत के अपने साये की तरह साथ में रखने लगा था। यहां तक की कोर्ट रूम में सजा सुनाए जाने के बाद से जेल जाने तक हनीप्रीत बाबा के साथ ही नजर आई थी।

{ यह भी पढ़ें:- यूपी के मथुरा में महिला श्रद्धालु से बलात्कार, CCTV में कैद हुई पूरी घटना }