1. हिन्दी समाचार
  2. जीवन मंत्रा
  3. देखिये आंखों को सुरक्षित रखने के टिप्स

देखिये आंखों को सुरक्षित रखने के टिप्स

हमेशा एलईडी या ट्यूब लाइट का उपयोग करने के बजाय प्राकृतिक प्रकाश में काम करने का प्रयास करें। जब सूरज की रोशनी आपके कमरे में दरवाजे और खिड़कियों से प्रवेश करती है, तो यह आपकी आंखों को आराम देती है। यह आपको पूरे दिन सक्रिय रहने में भी मदद करता है।

By प्रीति कुमारी 
Updated Date

कोविड महामारी और लॉकडाउन के कारण, हम में से अधिकांश घर से काम कर रहे हैं, और डिजिटल स्क्रीन पर हमारा समय बढ़ गया है। आप लगभग पूरा दिन अपने लैपटॉप या कंप्यूटर स्क्रीन को घूरते हुए बिताते हैं। वयस्कों और बच्चों के लिए स्थिति समान है जो काम नहीं कर रहे हैं लेकिन टीवी देख रहे हैं या सोशल मीडिया का उपयोग कर रहे हैं। डिजिटल स्क्रीन समय में वृद्धि के कारण, आपकी आंखें सामान्य से अधिक तनाव में हैं। अपनी दो सबसे मूल्यवान संपत्तियों (आपकी आंखें) को सुरक्षित और सुरक्षित रखने के लिए आपको कुछ चीजें करनी चाहिए।

पढ़ें :- Makhana Benefits : मखाना खाने से तनाव कम होता है, कई तरह के फायदे मिलते हैं

लैपटॉप/कंप्यूटर को उचित दूरी पर रखें

बहुत से लोग अपने डिजिटल उपकरणों को अपनी आंखों के पास पकड़कर उपयोग करते हैं। ऐसे लोगों को अक्सर आंखों की समस्याएं विकसित होने का अधिक खतरा होता है, खासकर जब कार्यस्थल पर लंबे घंटों के साथ संयुक्त हो। अपने लैपटॉप को हाथ की लंबाई पर रखना हमेशा सबसे अच्छा होता है। यानी स्क्रीन आपकी आंखों से उचित दूरी पर होनी चाहिए। आपकी स्क्रीन कम से कम एक हाथ की लंबाई (25 इंच) दूर और आंखों के स्तर से थोड़ी कम होनी चाहिए। इससे आंखों पर दबाव कम होता है और रोशनी की तीव्रता कम होती है।

अपनी स्क्रीन की स्थिति और चमक को समायोजित करें

आपकी स्क्रीन का स्थान आपके विचार से अधिक महत्वपूर्ण है। वास्तव में, काम पर एक लंबे दिन के बाद आपकी आंखें कैसा महसूस करती हैं, इस पर इसका महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ता है। स्क्रीन की स्थिति और चमक को समायोजित करें ताकि आप अपने सिस्टम पर बिना तनाव या बहुत अधिक ध्यान केंद्रित किए काम कर सकें। हालांकि, अगर आपकी आंखें बहुत कमजोर हैं, तो आपको डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

पढ़ें :- Cinnamon Health Benefits : दालचीनी करेगी बीमारियों से बचाव,परेशानियों से मिलेगी राहत

प्राकृतिक रोशनी में काम करने की कोशिश करें

हमेशा एलईडी या ट्यूब लाइट का उपयोग करने के बजाय प्राकृतिक प्रकाश में काम करने का प्रयास करें। जब सूरज की रोशनी आपके कमरे में दरवाजे और खिड़कियों से प्रवेश करती है, तो यह आपकी आंखों को आराम देती है। यह आपको पूरे दिन सक्रिय रहने में भी मदद करता है।

नियमित ब्रेक लें

घर से काम करते समय याद रखने वाली सबसे महत्वपूर्ण चीजों में से एक है नियमित ब्रेक लेना। यह सलाह का एक प्रभावी टुकड़ा है जिसे बहुत से लोग अनदेखा करते हैं क्योंकि वे लगातार अपने काम पर ध्यान केंद्रित करते हैं। हालांकि, यह अनुशंसा की जाती है कि आप हर घंटे कम से कम 5 मिनट के लिए स्क्रीन से अपनी निगाहें हटा लें। यह आपकी एकाग्रता और उत्पादकता में भी सुधार करता है। यह एक सर्वांगीण जीत की स्थिति है! इसलिए ब्रेक लेना याद रखें।

अभ्यास नेत्र व्यायाम

पढ़ें :- High Energy : दिनभर भरपूर ऊर्जा के लिए खाएं ऐसा भोजन, थकान और तनाव से मुक्त हो जाएंगे

आंखों के कुछ नियमित व्यायाम करने के लिए हर 24 घंटे में कुछ समय निकालें। आपकी आंखों को, किसी भी अन्य मांसपेशियों की तरह, मजबूत और स्वस्थ रहने के लिए नियमित व्यायाम की आवश्यकता होती है। 20-20-20 का नियम एक ऐसी सरल एक्सरसाइज है जिसे आप घर से काम करते हुए कर सकते हैं। हर 20 मिनट के बाद, 20 सेकंड के लिए अपनी स्क्रीन से दूर देखें और 20 फीट दूर किसी भी वस्तु पर ध्यान केंद्रित करें।

पलक झपकाना न भूलें

सामान्य तौर पर, आप हर चार सेकंड में पलकें झपकाते हैं, लेकिन कुछ अध्ययनों से पता चलता है कि डिजिटल स्क्रीन के साथ काम करने पर यह आधे से भी कम हो जाता है। अपनी आंखों को नमीयुक्त रखने और उन्हें शुष्क और चिड़चिड़े होने से बचाने के लिए जितनी बार हो सके झपकाएं।

बड़े फोंट का प्रयोग करें

आपके लैपटॉप या कंप्यूटर पर फोंट का आकार अक्सर हमारी आंखों को कैसा महसूस करता है, इसे प्रभावित कर सकता है। फ़ॉन्ट जितना छोटा होगा, आंखों पर उतना ही अधिक दबाव पड़ेगा। यह इस तथ्य के कारण है कि छोटे फोंट को पढ़ते समय अधिक ध्यान देने की आवश्यकता होती है, जिससे आपकी आंखें तनावग्रस्त हो जाती हैं। इसलिए, लंबे दस्तावेज़ों को पढ़ते समय, जितना हो सके स्क्रीन के फ़ॉन्ट को समायोजित करें।

उचित प्रकाश व्यवस्था सुनिश्चित करें

पढ़ें :- Palak Oats Wrap Recipe: शादी में सुबह नाश्ते में जरूर बनांये पालक ओट्स रैप

चकाचौंध आंखों में खिंचाव का एक प्रमुख कारण है। डिजिटल स्क्रीन पर चकाचौंध कठोर ओवरहेड लाइटिंग या खिड़कियों से प्रकाश के कारण होती है, जो आमतौर पर सीधे आपके पीछे या सामने होती है। चकाचौंध से बचने के लिए अपने कंप्यूटर/लैपटॉप स्क्रीन की स्थिति बनाएं और यदि आवश्यक हो, तो खिड़कियों पर पर्दे या अंधा का उपयोग करें।

हाइड्रेटेड रहना

आपकी आंखों सहित आपके शरीर के समग्र स्वास्थ्य के लिए पर्याप्त मात्रा में तरल पदार्थ का सेवन महत्वपूर्ण है। यदि आप हाइड्रेटेड रहते हैं तो आप अपनी आंखों को शुष्क और चिड़चिड़े होने से बचा सकते हैं।

आंखों की जांच कराएं

काम पर आंखों के अच्छे स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए नियमित रूप से आंखों की जांच जरूरी है। जब तक किसी ऑप्टिशियन या स्वास्थ्य पेशेवर द्वारा अन्यथा सलाह न दी जाए, हर दो साल में एक शेड्यूल करें। एक ऑप्टोमेट्रिस्ट या नेत्र रोग विशेषज्ञ आपकी दृष्टि को लूटने से पहले आंखों की समस्याओं का पता लगा सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...