Shocking: नौकर से कैब ड्राइवर तक, नोटबंदी के बाद बन गये करोड़पति

नई दिल्ली। नोटबंदी के बाद देश के अलग-अलग इलाकों में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की छापेमारी में बड़ी मात्रा में नगदी मिलने का सिलसिला जारी है। आयकर विभाग ने नोटबंदी के बाद देश भर में कालेधन के खिलाफ अपने अभियान के तहत 3,590 करोड़ रुपये की अघोषित संपत्ति का पता लगाया हैं। वहीं, 93 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य के नये नोट जब्त किये और 760 तलाशी ली गयी। विभाग ने कर चोरी व हवाला से जुडे लेनदेन के आरोप में अभी तक 3,590 करोड़ रुपये मूल्य से अधिक की अघोषित आय पकड़ी है, इस दौरान 505 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य की नकदी व आभूषण भी जब्त किये गये हैं।




ये हैं हाल ही के कुछ मामले–

हैदराबाद : ड्राइवर के खाते में 7 करोड़ रुपये

एक उबर कैब ड्राइवर के खाते में 7 करोड़ रुपये के पुराने नोट जमा किए गए। इतनी बड़ी रकम के जमा किए जाने के बाद जब इनकम टैक्स अधिकारियों ने स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद के खातों की जांच की तो पता चला कि यह रकम नोटबंदी के बाद केवल कुछ ही हफ्तों के अंदर जमा की गयी थी।



चेन्नई : 1.34 करोड़ रुपये के नये नोट जब्त

डीआरआई के अफसरों ने चेन्नई एयरपोर्ट पर पांच लोगों के एक गिरोह से विदेशी मुद्रा के अलावा 1.34 करोड़ रुपये बरामद किये हैं। यह राशि दो-दो हजार के नये नोटों में है और अधिकारियों ने बताया कि एक गिरोह के विदेशी मुद्रा की भारत से बाहर तस्करी करने की सूचना मिलने पर डीआरआई चेन्नई जोन के अधिकारियों ने गुरुवार तड़के पांच लोगों को अन्ना एयरपोर्ट के बाहर रोक लिया। गिरोह के पास मौजूद सामान की जांच के दौरान पाया गया कि उसमें दो-दो हजार रुपये के नोटों में कुल 1.34 करोड़ रुपये और विदेशी मुद्रा में 7000 डॉलर (4.76 लाख रुपये) से अधिक राशि थी।



यूपी : कार से बरामद हुई 20 लाख की नकदी

उत्तर प्रदेश में संभल जिले के चंदौसी क्षेत्र में एक कार से 20 लाख 31 हजार के नये-पुराने नोट बरामद किये गये। बरामद रुपये में दो हजार के 16 लाख रुपये है। पुलिस ने इस मामले में चालक विष्णु श्रीवास्तव और रंजीत कुमार को हिरासत में लिया और मामले की छानबीन जारी है।



नई दिल्ली : रेलवे स्टेशन से 31 लाख जब्त

नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर गुरुवार को 25 वर्षीय शिबाशीद महापात्रा को 31 लाख रुपये के पुराने नोटों के साथ पकड़ा गया। पुलिस उसे हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। मिली जानकारी के अनुसार वह ओड़िशा जा रहा था और पूरे मामले की आयकर विभाग जांच कर रही है।




रिपोर्ट–अनुराग सिंह

Loading...