रेल यात्रियों की इन 10 सुविधाओं के बारे में नहीं जानते होंगे आप

indian railway, भारतीय रेलवे ,
RRB Group D Exam 2018: रेलवे ग्रुप डी की परीक्षा के लिए ऐसे करें तैयारी

Services Provided By Irctc

नई दिल्ली। भारतीय रेलवे अपने यात्रियों के लिए तमाम ऐसी सुविधाएं उपलब्ध करवाती है जिन्हें ज़्यादातर लोग नहीं जानते हैं। अगर आप भी अक्सर ट्रेन से सफर करते हैं तो यह खबर आपके काम की है। आज हम आपको तमाम ऐसे नियमों के बारे में बताएंगे जो हर रेल यात्रियों को अवश्य जानना चाहिए।

व्हीलचेयर की सुविधा

आईआरसीटीसी ने हाल ही में व्हीलचेयर और एसिसटेंट उपलब्ध कराने की सुविधा शुरू की है। यह खास सुविधा वरिष्ठ नागरिकों और शारीरिक रूप से सक्षम न होने वाले लोगों के लिए है। आरएसी और वेटिंग टिकट वालों को भी यह सुविधा नि:शुल्क दी जाती है। ट्रेन से कुछ ऐसे बुजुर्ग लोग यात्रा करते है जिन लोगों के पैर साथ नहीं देते हैं उनके लिए ट्रेन का सफर मुश्किल हो जाता है। फिलहाल अभी यह सुविधा कुछ ही स्टेशनों पर उपलब्ध है।

मनपसंद खाना हो उपलब्ध

  • रेल यात्री अक्सर खाने की गुणवत्ता को लेकर शिकायत करते हैं, हालांकि ई-कैटरिंग के अंतर्गत आईआरसीटीसी आपकी मांग पर मनपसंद खाना भी ट्रेन में उपलब्ध कराता है।
  • जिस ट्रेन में पैंट्री कार नहीं होती है उसमें आप इस सुविधा का लाभ ले सकते हैं।
  • इसके लिए आपको आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर ऑनलाइन या मोबाइल से मैसेज कर आर्डर करना होगा।
  • आपको अपनी ट्रेन, कोच और बर्थ नंबर के साथ उस स्टेशन का नाम डालना होगा जहां आपको खाना चाहिए।
  • इस लिंक (https://www.ecatering.irctc.co.in/) के इस्तेमाल से आप अपनी पसंद का खाना ऑर्डर कर सकते हैं।

रिटायरिंग रूम ऑनलाइन कर सकते हैं बुक

  • आप आईआरसीटीसी पर ऑनलाइन रिटायरिंग रूम भी बुक करा सकते हैं।
  • आप सिंगल/ डबल एसी या नॉन एसी रूम बुक कर सकते हैं।
  • इसके लिए आपको https://www.irctctourism.com/#/tourpkgs पर जाना होगा।

टिकट ट्रांसफर कर सकते हैं आप

कभी-कभी ऐसा भी होता है जब आपके पास रेलवे की कन्फर्म टिकट होती है, लेकिन किसी कारणवश आपको यात्रा कैंसिल करनी पड़ जाती है, ऐसे में अगर आप अपनी जगह किसी और को भेजना चाहें वो वह (आपकी टिकट) टिकट उसके नाम ट्रांसफर की जा सकती है। हालांकि आपको यह काम यात्रा के 48 घंटे पहले करना होगा। यानी अगर आप चाहें तो आप अपने पारिवारिक सदस्य को अपनी टिकट ट्रांसफर कर उसे यात्रा पर भेज सकते हैं। आप अपना टिकट सिर्फ अपने पारिवारिक सदस्यों को ही ट्रांसफर कर सकते हैं। जैसे कि मां, पिता, भाई, बहन, बेटा, बेटी, पति और पत्नी। इसके अलावा किसी अन्य व्यक्ति को इस ट्रिकट को ट्रांसफर कराने की इजाजत नहीं है।

बोर्डिंग स्टेशन बदल सकते हैं आप

  • यूजर आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर जाकर अपना अकाउंट लाग-इन कर बोर्डिंग स्टेशन का नाम बदल सकते हैं।
  • इंडियन रेलवे उस सूरत में बोर्डिंग स्टेशन के नाम में बदलाव की अनुमति नहीं देती है जब टिकट ऑफलाइन मोड में बुक किया गया हो।
  • जिस भी यात्री ने आईआरसीटीसी के माध्यम से ऑनलाइन टिकट बुक कराया हो वो ट्रेन के डिपार्चर से 24 घंटे पहले तक बोर्डिंग स्टेशन के नाम में बदलाव कर सकता है।

इन्हें मिलती है सस्ती टिकट

  • ऑफलाइन माध्यम से टिकट खरीदने पर विकलांग व्यक्तियों, मरीजों, वरिष्ठ नागरिकों, पुरस्कार विजेता (अवार्डी), शहीदों की विधवाएं, छात्रों, युवाओं, कलाकारों, खिलाड़ियों, मेडिकल प्रोफेशनल्स और अन्य लोगों को
  • सस्ती टिकिटें उपलब्ध कराई जाती है। यह छूट श्रेणी के आधार पर 25 फीसद से 100 फीसद तक होती है।
  • हालांकि अगर ऑनलाइन माध्यम से टिकट बुक कराई जाती है तो इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कारपोरेशन (आईआरसीटीसी) पर सिर्फ वरिष्ठ नागरिकों को ही छूट उपलब्ध करवाई जाती है।

आरएसी वालों को भी मिल सकती है बर्थ

ऐसे यात्री जिनकी टिकट आरएसी (रिजर्वेशन अगेंस्ट कैंसिलेशन) श्रेणी की है उन्हें शुरुआती तौर पर बैठने भर के लिए सीट उपलब्ध करवाई जाती है और बाद में स्थान मिलने पर उन्हें बर्थ भी उपलब्ध करवाई जा सकती है। यह उस सूरत में होता है जब काफी सारे यात्री अंतिम मिनटों में अपनी टिकट कैंसिल कराते हैं या फिर यात्री समय पर स्टेशन नहीं पहुंचते हैं।

टिकट की डुप्लीकेट कॉपी

अगर आपने रिजर्वेशन काउंटर से टिकट ली है और किसी वजह से टिकट गुम हो गई है तो परेशान होने की जरूरत नहीं है, आप उसकी डुप्लीकेट कॉपी भी निकलवा सकते हैं।

नई दिल्ली। भारतीय रेलवे अपने यात्रियों के लिए तमाम ऐसी सुविधाएं उपलब्ध करवाती है जिन्हें ज़्यादातर लोग नहीं जानते हैं। अगर आप भी अक्सर ट्रेन से सफर करते हैं तो यह खबर आपके काम की है। आज हम आपको तमाम ऐसे नियमों के बारे में बताएंगे जो हर रेल यात्रियों को अवश्य जानना चाहिए। व्हीलचेयर की सुविधा आईआरसीटीसी ने हाल ही में व्हीलचेयर और एसिसटेंट उपलब्ध कराने की सुविधा शुरू की है। यह खास सुविधा वरिष्ठ नागरिकों और शारीरिक रूप…