1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. कोरोना महामारी की तीसरी लहर से मुकाबले को RSS की सेवा सुरक्षा समिति तैयार

कोरोना महामारी की तीसरी लहर से मुकाबले को RSS की सेवा सुरक्षा समिति तैयार

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की प्रेरणा से सेवा भारती लखनऊ विभाग के तरफ से लखनऊ पूरब भाग के कार्यकर्ताओं ने कोरोना जैसी महामारी की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए उससे बचाव के लिए सेवा सुरक्षा समिति का गठन किया। जिसका प्रशिक्षण वर्ग महामना मालवीय मिशन विद्यालय गोमती नगर में सुबह 9:00 बजे से दोपहर 1:00 बजे तक किया गया। जिसमें अनेक सामाजिक कार्यकर्ता एवं सभी विभाग के डॉक्टर मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पूरब भाग कार्यवाह ज्योति प्रकाश लखनऊ ने किया।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की प्रेरणा से सेवा भारती लखनऊ विभाग के तरफ से लखनऊ पूरब भाग के कार्यकर्ताओं ने कोरोना जैसी महामारी की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए उससे बचाव के लिए सेवा सुरक्षा समिति का गठन किया। जिसका प्रशिक्षण वर्ग महामना मालवीय मिशन विद्यालय गोमती नगर में सुबह 9:00 बजे से दोपहर 1:00 बजे तक किया गया। जिसमें अनेक सामाजिक कार्यकर्ता एवं सभी विभाग के डॉक्टर मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पूरब भाग कार्यवाह ज्योति प्रकाश लखनऊ ने किया।

पढ़ें :- सपा सांसद डॉ. शफीकुर्रहमान बर्क के तीखे बोल, कहा PFI को किया बैन, तो RSS को क्यूं नहीं?

हर बस्ती में एक सेवा सुरक्षा समिति का कर रहे हैं गठन : ज्योति प्रकाश

ज्योति प्रकाश ने बताया कि हम लोग हर बस्ती में एक सेवा सुरक्षा समिति का गठन कर रहे हैं। सभी नगर की सेवा सुरक्षा समिति का गठन भी हो रहा है। ताकि आने वाले समय में किसी भी महामारी की परिस्थिति में हम समाज के हर नागरिक की सहायता कर सकें। निदेशक होम्योपैथिक उत्तर प्रदेश सरकार डॉक्टर बी एन सिंह ने कहा कि किसी भी महामारी से कैसे लोगों को बचाया जा सके। उसके बारे में बहुत सारी जानकारियां देकर लोगों को सेवा सुरक्षा समिति से जुड़े कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित किया गया।

इसमे सामाजिक कार्यकर्ताओं में डाक्टर, विभिन्न संगठनों, स्थानीय संगठनों, मातृशक्ति, धार्मिक संगठनों के हर वर्ग के लोगों का प्रतिनिधित्व रहा। यह प्रशिक्षण कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर,यदि आती है,तो हम अपने संपूर्ण समाज को किस प्रकार सुरक्षित रख पायेंगें। इस के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने इस प्रशिक्षण कार्यक्रम की योजना बनाई । उसमें मुख्य रूप से ऐसे सभी व्यक्तियों को सम्मिलित किया जो सेवाभावी है।जो संपूर्ण समाज को अपना परिवार मानते हैं। इस कार्यक्रम में मातृशक्ति का भी पूर्ण रूप से योगदान रहा। इस प्रशिक्षण का प्रथम सत्र में पूरब भाग के कार्यवाह ज्योति प्रकाश ने प्रस्तावना व इसकी आवश्यकता पर चर्चा की।

उसके पश्चात पूरब भाग के सहभाग कार्यवाह राम लखन ने बचाव के बारे में किस प्रकार से हम समाज को जागरूक कर सकते हैं विषय रखा । तृतीय सत्र में डॉ. बी एन सिंह, आरोग्य भारती के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व गोमतीनगर जन कल्याण महासमिति के अध्यक्ष ने  बताया कि हमें किस प्रकार से कोरोना संक्रमित होने के पश्चात बचाव करना है । कोरोना न हो इसके लिए क्या-क्या उपाय करना आवश्यक है। इन विषयों पर चर्चा की।

पढ़ें :- Imam Chief Omar Ahmed Ilyasi को मिली Y कैटेगरी सुरक्षा, मोहन भागवत के बारे में कही थी ये बात

उसके पश्चात दुर्गा वाहिनी की मुद्रा सिंह ने मातृशक्ति का प्रतिनिधित्व करते हुए इस विषय पर अपनी बात रखी कैसे महामारी से बचाव के लिए अपने परिवारों की माता एवं बहनें किस प्रकार से सक्रिय भूमिका निभा सकतीं हैं ?  छोटे-छोटे बच्चों को तथा अपने परिवार के सदस्यों को संक्रमित होने से बचा सकते हैं ।  हमें अपनी जीवन शैली किस प्रकार की अपनानी चाहिए । किस प्रकार का भोजन लेना चाहिए यह बताया।

अन्त में पूरब भाग के भाग संघचालक प्रभात अधौलिया ने समापन सत्र में करणीय कार्यों के बारे में बताया ।  कोरोना की प्रथम और द्वितीय लहर में सेवा भारती द्वारा किये गये सेवा कार्यों की चर्चा की। कहा कि इस प्रकार की महामारी में हमें स्वयं को तथा समाज को अपनी जिम्मेदारी समझनी चाहिए। इस प्रकार का प्रशिक्षण पूरे देश भर में हर गांव व बस्ती स्तर पर सेवा भारती के तरफ से किया जायेगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...