1. हिन्दी समाचार
  2. सोये हुए भाग्य को जगाने के लिए सात दिनों के उपाय, आजमाएं लाल किताब के चमत्कारी टोटके

सोये हुए भाग्य को जगाने के लिए सात दिनों के उपाय, आजमाएं लाल किताब के चमत्कारी टोटके

Seven Days Remedy To Awaken Sleeping Fortune Lal Kitab Will Fill The Store

By आराधना शर्मा 
Updated Date

लखनऊ: हिंदू धर्म में ज्योतिष शास्त्र एक ऐसी विद्या है जिसकी मदद से इंसान अपने जीवन की सभी समस्याओं को जानकर समय से उसका निवारण कर सकता है। हालांकि ज्योतिष विद्या में कई तरह की विद्याएं शामिल है जो इंसान के जीवन से जुड़ी समस्याओं का उचित समधान बताती हैं। इसके अलावा ज्योतिष शास्त्र में लाल किताब को एक मशहूर और असरदार विद्या मानी जाती है।

पढ़ें :- सरकारी नौकरी: आर्मी पब्लिक स्कूल ने निकाली 137 टीचर्स की भर्ती, ऐसे करें अप्लाई

लाल किताब पूरी तरह से सामुद्रिक शास्त्र पर आधारित है। कहा जाता है कि इसमें दिए गए उपायों को आजमाकर इंसान अपने जीवन को सुखद बना सकता है। आज हम आपको सोये हुए भाग्य को जगाने के लिए लाल किताब के एक बहुत ही असरदार और चमत्कारिक उपाय के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपकी किस्मत बदल सकता हैं।

सोये हुए भाग्य को जगाने के लिए सात दिनों के उपाय

लाल किताब में धन प्राप्ति और हर समस्या से मुक्ति प्राप्त करने का एक अचूक मंत्र बताया गया है इस मंत्र का आपको सिर्फ एक हफ्ते तक रोज सुबह 108 बार विधि-विधान के साथ जाप करना है।

मंत्र

‘ओम् महालक्ष्म्यै च विद्महे विष्णुपत्न्यै च धीमही तन्नो लक्ष्मी देवी प्रचोदयात’.

सोमवार

सोमवार का दिन चंद्र ग्रह और भगवान शिव को समर्पित होता है। लाल किताब के अनुसार चंद्रमा को प्रसन्न करने के लिए इस दिन खीर का सेवन करना चाहिए और सफेद वस्त्र धारण करना चाहिए।

मंगलवार

मंगलवार का दिन मंगल ग्रह के साथ भगवान हनुमान को समर्पित है इसलिए अपने सोए हुए भाग्य को जगाने के लिए इस दिन गरीबों में मीठी रोटी और मसूर की दाल का दान करना फलदायी होता है।

पढ़ें :- पति निक से ज्यादा प्रियंका करती हैं इससे प्यार, वायरल हो रही तस्वीरों ने किया खुलासा

बुधवार

बुधवार का दिन बुध ग्रह और बुद्धि की देवी को समर्पित होता है इसलिए इस दिन हरे मूंग का सेवन करें और व्यापार में आनेवाली बाधा को दूर करने के लिए बुधवार को किसी ब्राह्मण को गाय का दान करना शुभ माना जाता है।

गुरूवार

गुरुवार का दिन देव गुरू बृहस्पति और भगवान विष्णु को समर्पित होता है। अगर आप अपने सोए भाग्य को जगाना चाहते हैं तो फिर गुरुवार के दिन ब्राह्मणों को पिले रंग के वस्त्र दान करें और भोजन में कढ़ी चावल खाएं।

शुक्रवार

शुक्रवार का दिन शुक्र ग्रह व दैत्य गुरू शुक्राचार्य को समर्पित है। इस दिन सुबह के वक्त दही का सेवन करने से इंसान का भाग्य चमकता है।

शनिवार

शनिवार का दिन कर्मफलदाता व न्याय के देवता शनिदेव को समर्पित है। इसलिए इस दिन नई वस्तुओं की खरीदारी करने से बचें और शनिदेव को तेल अर्पित करें।

पढ़ें :- डुकाटी डियावेल ने लॉन्च की दमदार फीचर्स वाली बाइक, फीचर्स बना रहे दीवाना

रविवार

रविवार का दिन ग्रहों के राजा सूर्य देव को समर्पित होता है। इस दिन सूर्य को जल चढ़ाने और नदी में गुड़ प्रवाहित करने से दुर्भाग्य भी सौभाग्य में बदल जाता है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...