रांची में बुराड़ी कांड जैसी सनसनीखेज वारदात, एक ही परिवार के सात लोगों ने की आत्महत्या

ranchi-suicide
रांची में बुराड़ी कांड जैसी सनसनीखेज वारदात, एक ही परिवार के सात लोगों ने की आत्महत्या

नई दिल्ली। झारखंड के रांची में दिल्ली के बुराड़ी कांड जैसी सनसनीखेज घटना सामने आई है। यहां एक ही परिवार के सात लोगों ने आत्महत्या कर ली। मृतकों में पांच वयस्क और दो बच्चे शामिल हैं। मामला कांके थाना इलाके के रसंडे का है। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि प्रथमदृष्टया मामला आत्महत्या का प्रतीत हो रहा है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद स्थिति स्पष्ट हो जाएगी।

Seven People Of The Same Family Found Dead In Ranchi :

मिली जानकारी के अनुसार, बिहार के भागलपुर के रहने वाले दीपक झा परिवार समेत एक महीने पहले शिफ्ट हुए थे। वह यहां एक प्राइवेट कंपनी में काम करते थे और अपने परिवार के साथ किराए के घर में रहते थे। कुछ दिन पहले परिवार में बच्चे का जन्मदिन भी बेहद धूमधाम से मनाया गया था, लेकिन फिर अचानक ऐसा क्या हुआ कि एक ही साथ इतने सारे लोगों ने आत्महत्या कर ली ये किसी को समझ नहीं आ रहा है।

बताया जा रहा है कि इनमें एक व्यक्ति का शव फांसी के फंदे से लटका मिला, जबकि बाकी लोगों के शव बिस्तर पर पड़े थे। वहीं, घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को अपने कब्जे में ले लिया और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मौके पर एफएसएल की टीम को भी बुलाया गया है। फिलहाल मामले की छानबीन चल रही है।

पड़ोसियों का कहना है कि रात में भी सभी नजर आए थे और किसी तरह के झगड़े की आवाज नहीं सुनाई दी थी। मृतक दीपक झा की बेटी स्कूल जाती थी और स्कूल वैन के बार-बार हॉर्न बजाने के बाद भी परिवार से कोई नहीं आया, तब मकान मालिक घर पहुंचे और ये मामला सामने आया।

नई दिल्ली। झारखंड के रांची में दिल्ली के बुराड़ी कांड जैसी सनसनीखेज घटना सामने आई है। यहां एक ही परिवार के सात लोगों ने आत्महत्या कर ली। मृतकों में पांच वयस्क और दो बच्चे शामिल हैं। मामला कांके थाना इलाके के रसंडे का है। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि प्रथमदृष्टया मामला आत्महत्या का प्रतीत हो रहा है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद स्थिति स्पष्ट हो जाएगी।मिली जानकारी के अनुसार, बिहार के भागलपुर के रहने वाले दीपक झा परिवार समेत एक महीने पहले शिफ्ट हुए थे। वह यहां एक प्राइवेट कंपनी में काम करते थे और अपने परिवार के साथ किराए के घर में रहते थे। कुछ दिन पहले परिवार में बच्चे का जन्मदिन भी बेहद धूमधाम से मनाया गया था, लेकिन फिर अचानक ऐसा क्या हुआ कि एक ही साथ इतने सारे लोगों ने आत्महत्या कर ली ये किसी को समझ नहीं आ रहा है।बताया जा रहा है कि इनमें एक व्यक्ति का शव फांसी के फंदे से लटका मिला, जबकि बाकी लोगों के शव बिस्तर पर पड़े थे। वहीं, घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को अपने कब्जे में ले लिया और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मौके पर एफएसएल की टीम को भी बुलाया गया है। फिलहाल मामले की छानबीन चल रही है।पड़ोसियों का कहना है कि रात में भी सभी नजर आए थे और किसी तरह के झगड़े की आवाज नहीं सुनाई दी थी। मृतक दीपक झा की बेटी स्कूल जाती थी और स्कूल वैन के बार-बार हॉर्न बजाने के बाद भी परिवार से कोई नहीं आया, तब मकान मालिक घर पहुंचे और ये मामला सामने आया।