1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली के रोहिणी इलाके में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, पीड़ित लड़की ने जो बताया उसे सुनकर आप भी रह जाएंगे हैरान

दिल्ली के रोहिणी इलाके में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, पीड़ित लड़की ने जो बताया उसे सुनकर आप भी रह जाएंगे हैरान

Sex Racket Busted In Rohini Area Of Delhi You Will Be Shocked To Hear What The Victim Told

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

नई दिल्ली: देश की राजधनी दिल्ली में जिस्मफरोशी का धंधा कम होने का नाम नहीं ले रहा है. दिल्ली में कई बार सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ कर आरोपियों को पकड़ा जा चुका है. वहीं अब दिल्ली में 20 वर्षीय लड़की को एक घर में चल रहे सेक्स रैकेट से बचाया गया है. ताजा घटनाक्रम में दिल्ली के रोहिणी इलाके में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया गया है. जहां एक 20 साल की लड़की को अच्छी नौकरी का लालच देकर जबरदस्ती जिस्मफरोशी के धंधे में धकेला गया. हालांकि इस मामले में कार्रवाई करते हुए लड़की का रेस्क्यू कर लिया गया और एफआईआर भी दर्ज की गई है.

पढ़ें :- कोरोना संकट के दौरान भी हमारे देश के कृषि क्षेत्र ने अपना दमखम दिखाया : पीएम मोदी

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने ट्वीट कर बताया, ‘कल देर रात तक चले रेस्क्यू ऑपेरशन में रोहिणी इलाके से हमने एक 20 वर्षीय लड़की को एक घर में चल रहे सेक्स रैकेट से मुक्ति दिलवाई. लड़की को 25 अगस्त को अच्छी नौकरी का लालच देकर जबरन जिस्मफरोशी में धकेला गया. पुलिस के साथ मिलकर रात को रेस्क्यू कर मामले में एफआईआर दर्ज करवाई है.’

दरअसल, दिल्ली महिला आयोग ने शुक्रवार देर रात रोहिणी सेक्टर 6 से एक लड़की को जिस्मफरोशी के गोरख धंधे से रिहा करवाया और सेक्स रैकेट बंद करवाया. आयोग की 181 हेल्पलाइन पर एक लड़की ने कॉल करके बताया कि उसे रोहिणी के एक घर में कैद करके रखा गया है और उससे जबरन जिस्मफरोशी करवाई जा रही है.

लड़की ने बताया कि उसके पुराने घर के पास रहने वाले एक जानकार लड़के ने उसे कहा था कि वो उसे पैसे शॉर्टकट तरीके से कमाने वाली नौकरी दिलवाएगा. लड़के की बातों में आकर लड़की उसके साथ 25 अगस्त को रोहिणी सेक्टर 6 के एक घर में गई. जहां उससे 3 दिन जिस्मफरोशी करवाई गई. जब लड़की ने मना किया तो उसे धमकाया गया और घर को लॉक कर दिया गया. लड़की ने बताया कि उस घर में दिन में कई कस्टमर आते थे और वहां जिस्मफरोशी का धंधा खुलेआम चलता है.

सूचना मिलते ही दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल और सदस्य किरण नेगी की एक टीम देर रात गठित की गई, जो पुलिस के साथ दिए गए पते पर पहुंची. घर के अंदर टीम ने पाया कि पीड़िता के अलावा 2 महिलाएं, मुख्य आरोपी और कुछ कस्टमर भी थे. मुख्य आरोपी जितेश एक महिला के साथ आपत्तिजनक हालात में पाया गया और टीम को अंदर आते देख वो पीछे के दरवाजे से भाग खड़ा हुआ.

पढ़ें :- कोरोना का आंकड़ा 59 लाख के पार पहुंचा, 24 घंटे में​ मिले 88,600 नए केस

उन दोनों के साथ एक और महिला ने भी भागने का प्रयास किया जो कि नाकाम रही. महिला ने बताया कि वो जितेश की पार्टनर है और उसने कबूल किया कि दोनों मिलकर वहां जिस्मफरोशी का काम करवाते हैं. मौके से कॉल करके शिकायत करने वाली पीड़िता को रेस्क्यू करवाया गया और घर में मौजूद सभी व्यक्तियों को पुलिस स्टेशन ले जाया गया. पुलिस के सामने दिए गए बयान में पीड़िता ने बताया कि किस प्रकार उसे धोखे से घर मे लाकर जिस्मफरोशी में धकेलने का प्रयास किया गया.

पुलिस ने आरोपी जितेश की पार्टनर समेत 3 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है और आईटीपीए सेक्शन 3/4/5/6 और आईपीसी सेक्शन 343/506/509/34 के तहत एफआईआर दर्ज कर ली है. पुलिस मुख्य आरोपी जितेश को भी तलाश रही है और उसे जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा. कार्रवाई के बाद पीड़िता को सुरक्षित उसके घर वापस पहुंचा दिया गया है.

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने कहा कि दिल्ली के कोने-कोने में चल रहे स्पा सेक्स रैकेट में हमने जब एक्शन किया तो पूरी दिल्ली में खलबली मच गई. जगह-जगह लड़कियों को पैसों का लालच देकर जिस्मफरोशी में धकेल दिया जाता है. हमारी टीम ने इस मामले में सक्रियता और बहादुरी दिखाते हुए देर रात पुलिस के साथ इस सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया.

मालीवाल ने कहा कि लड़की को सेक्स रैकेट से मुक्ति दिलवाकर सुरक्षित घर पहुंचाया गया है. पुलिस ने भी इस मामले में पूरा सहयोग दिया और आरोपियों के खिलाफ त्वरित कार्रवाई की. कई घरों में जिस्मफरोशी के धंधे जो धड़ल्ले से चल रहे हैं, उन पर लगाम कसी जानी ही चाहिए. दिल्ली महिला आयोग दिन रात मेहनत कर दिल्ली की लड़कियों की सुरक्षा कर रहा है.

पढ़ें :- कोरोना संकट के बीच खुलने जा रहा है सिनेमा हॉल, इन नियमों का करना होगा पालन

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...