शहबाज शरीफ होंगे पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री

नई दिल्ली। पाकिस्तान में पनामा पेपर्स लीक मामले में भ्रष्टाचार के दोषी पाए जाने के बाद सुप्रीम कोर्ट द्वारा प्रधानमंत्री पद के लिए अयोग्य ठहराए जाने के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने शुक्रवार को ही अपना इस्तीफा दे दिया है। पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट ने नवाज शरीफ के साथ—साथ उनके पूरे कैबिनेट को बर्खास्त कर दिया है। अपने इस्तीफे के बाद नवाज शरीफ ने अपने छोटे भाई शहबाज शरीफ के नाम को पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री के रूप में आगे बढ़ा दिया है।

मिली जानकारी के मुताबिक पाक संसद में बहुमत की सरकार चला रही पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग— नवाज ने शहबाज शरीफ को अपना नेता चुन लिया है। शहबाज वर्तमान में पाकिस्तानी संसद के सदस्य नहीं हैं। इस वजह से पार्टी में नवाज शरीफ के विश्वासपात्र रक्षामंत्री ख्वाजा आसिफ को 45 दिनों के लिए कार्यवाहक प्रधानमंत्री नियुक्त किया जाएगा। संसद की सदस्यता ग्रहण करते ही शहबाज को प्रधानमंत्री पद की शपथ दिलाई जाएगी।

ऐसी खबरेें पहले से ही आ रहीं थीं कि नवाज शरीफ को अपने खिलाफ होने वाली का कार्रवाई का अंदेशा पहले से ही था। इसीलिए उन्होंने पार्टी के सांसदों की बैठक बुलाकर शहबाज शरीफ के नाम को लेकर अपने सांसदों को जानकारी दे दी थी।

बताया जा रहा है कि पनामा पेपर लीक्स मामले में शाहबाज शरीफ का नाम भी उछला था लेकिन इस पूरे मामले में शहबाज पूरी तरह से बच गए थे। भ्रष्टाचार के मामले में नवाज की बेटी मरियम शरीफ और उनक दोनों बेटों की भूमिका भी सामने आने के बाद कोई और विकल्प शेष नहीं बचा था। वैसे पाकिस्तान में नवाज शरीफ के उत्तराधिकारी के रूप में उनकी बेटी मरियम शरीफ को ही देखा जाता है। वह पाकिस्तान में बेहद लोकप्रिय है।