शाहीन बाग: आज फिर प्रदर्शनकारियों से बात करने जायेंगे वार्ताकार, सुप्रीम कोर्ट ने गठित किया है मध्यस्थता पैनल

shahinbagh
शाहीन बाग: आज फिर प्रदर्शनकारियों से बात करने जायेंगे वार्ताकार, सुप्रीम कोर्ट ने गठित किया है मध्यस्थता पैनल

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ शाहीन बाग में धरने पर बैठे प्रदर्शनकारियों से बातचीत करने के लिए आज फिर मध्यस्थता पैनल वहां जायेगा। बताया जा रहा है कि दोपहर तीन बजे सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता संजय हेगड़े और साधना रामचंद्रन शाहीन बाग पहुंचकर आगे की बातचीत करेंगे।

Shaheen Bagh Negotiator Will Go To Talk To Protesters Today Supreme Court Has Set Up Arbitration Panel :

वहीं, इससे पहले बुधवार को भी संजय हेगड़े और साधना रामचंद्रन प्रदर्शनकारियों से बातचीत करने के लिए शाहीन बाग पहुंचे थे। करीब दो घंटे तक उन्होंने मीडिया की गैरमौजूदगी में प्रदर्शनकारियों से बातचीत की थी। पुलिस की मौजूदगी में दोनों अधिवक्ता मंच पर पहुंचे थे।

उन्होंने कहा कि रोड ब्लॉक करना, ट्रैफिक रोकना सही नहीं है। इस मसले का हल ऐसा निकाला जाए, जो दूसरे लोगों के लिए नजीर बन जाए। महिलाओं ने इस दौरान प्रदर्शनकारियों की देशभक्ति को लेकर सवाल उठाने पर नाराजगी जताई। वहीं प्रदर्शनकारियों से बातचीत के बाद लौटते समय संजय हेगड़े ने कहा कि वे सबकी बातें सुनकर बहुत प्रभावित हुए हैं।

हम लोग बातचीत से इस मसले का हल जरूर निकाल लेंगे। वहीं साधना रामचंद्रन ने कहा कि इस मामले का हल एक दिन में नहीं निकल सकता। प्रदर्शनकारी गुरुवार को हमसे फिर से बात करना चाहते हैं, इसलिए हम दोबारा आएंगे।

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ शाहीन बाग में धरने पर बैठे प्रदर्शनकारियों से बातचीत करने के लिए आज फिर मध्यस्थता पैनल वहां जायेगा। बताया जा रहा है कि दोपहर तीन बजे सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता संजय हेगड़े और साधना रामचंद्रन शाहीन बाग पहुंचकर आगे की बातचीत करेंगे। वहीं, इससे पहले बुधवार को भी संजय हेगड़े और साधना रामचंद्रन प्रदर्शनकारियों से बातचीत करने के लिए शाहीन बाग पहुंचे थे। करीब दो घंटे तक उन्होंने मीडिया की गैरमौजूदगी में प्रदर्शनकारियों से बातचीत की थी। पुलिस की मौजूदगी में दोनों अधिवक्ता मंच पर पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि रोड ब्लॉक करना, ट्रैफिक रोकना सही नहीं है। इस मसले का हल ऐसा निकाला जाए, जो दूसरे लोगों के लिए नजीर बन जाए। महिलाओं ने इस दौरान प्रदर्शनकारियों की देशभक्ति को लेकर सवाल उठाने पर नाराजगी जताई। वहीं प्रदर्शनकारियों से बातचीत के बाद लौटते समय संजय हेगड़े ने कहा कि वे सबकी बातें सुनकर बहुत प्रभावित हुए हैं। हम लोग बातचीत से इस मसले का हल जरूर निकाल लेंगे। वहीं साधना रामचंद्रन ने कहा कि इस मामले का हल एक दिन में नहीं निकल सकता। प्रदर्शनकारी गुरुवार को हमसे फिर से बात करना चाहते हैं, इसलिए हम दोबारा आएंगे।