डीजीपी साहब देख लीजिए अपनी मित्र पुलिस को, दरोगा के डर से घर छोड़ने को मजबूर बूढा परिवार

शाहजहांपुर: एक तरफ यूपी के सीएम पुलिस की छवि सुधारने की बात कहते हैं| जनता के प्रति पुलिस का व्यवहार अच्छा करने के लिए पुलिस के अधिकारीयों को मित्रता का पाठ पढाया जाता है ताकि जनता के मन में पुलिस का भय न हो | पुलिस को जनता का मित्र कहा जाता है| मगर हकीकत इससे बिलकुल परे है यूपी के शाहजहांपुर में पुलिस की एक ऐसी तस्वीर सामने आई है जहाँ एक दबंग दारोगा के भय से पूरा परिवार इस कदर डरा हुआ है कि अपना घर छोड़ने को मजबूर है| आये दिन दरोगा पीड़ित के घर जाकर उसे धमकियाँ देता है और बूढ़े बाप की बेटी के साथ बदसलूकी भी करता है और दरोगा की बात न मानने पर बूढ़े बाप को झूठे मुक़दमे में फ़साने की धमकी देता है| दरोगा के डर से पूरा परिवार इस कदर दहशत में है कि आत्महत्या करने को भी मजबूर हो गया है | वहीँ जिले के अलाअधिकारी दारोगा पर कार्यवाही करने के बजाय पीड़ित परिवार को भगवान के भरोसे रहने को कह रहे हैं|



मामला यूपी के शाहजहांपुर का है यहाँ थाना सदर बाजार में नियुक्त एक दबंग दारोगा की दहशत से एक बुढा परिवार आत्महत्या करने को मजबूर हो गया है| मोहल्ला बीबीजई हद्दफ में बूढा लालबहादुर अपनी होमगार्ड पत्नी रेखा के साथ रहता है | दो महीने पहले लालबहादुर के बेटे हरिओम ने अपने साथियों के साथ मिलकर मकान के लालच में अपने ही पिता को गोली मार दी थी जिसमे लाल बहादुर का इलाज चल रहा है और दूसरी तरफ दारोगा मनोज यादव ने आरोपियों के खिलाफ धारा 307 में मुकदमा लिखकर आरोपियों से मोटा पैसा लेकर उन्हें थाने से ही छोड़ दिया अब आरोपी पीड़ित परिवार पर राजीनामा करने के लिए दबाब बना रहे हैं| जिसके चलते दारोगा आये दिन पीड़ित परिवार के घर जाकर राजीनामे के लिए कह रहा है और ऐसा न करने पर उन्हें झूठे दर्जनों मुकद्दमों में फ़साने की धमकी भी दे रहा है|




दबंग दारोगा के डरे सहमे लाल बहादुर ने बताया की वो अपनी पत्नी के साथ दवाई लेने गया था उसके घर पर उसकी बेटी अकेली थी तभी दारोगा मनोज यादव उसके घर पर आया और जबरदस्ती उसके घर में घुसने की कोशिश की लाल बहादुर की बेटी नेहा ने जब उसे रोकने की कोशिश की तो दारोगा ने बेटी के साथ बदतमीजी करने लगा और कहा की अगर तुम्हारे बाप ने मुकद्दमे में राजीनामा नहीं किया तो उसे इतने झूठे मुकदमो में फसा दूंगा की जेल में ही सड जायेगा | कल तक का ही टाइम है उसके पास नहीं तो उसे घर से जबरदस्ती उठा ले जाऊंगा | बूढ़े बाप का रो रो कर बुरा हाल है दरोगा की धमकी से परिवार इस कदर डर गया है की दारोगा के डर से अपने घर को छोड़ने की बात कह रहा है | दारोगा की दहशत परिवार में इस कदर है की बूढा लाल बहादुर आत्महत्या करने का भी मन बना चूका है | वहीँ जब दारोगा की शिकायत करने परिवार पुलिस के आला अधिकारीयों के पास गया तो अधिकारीयों ने दारोगा के खिलाफ कार्यवाही नहीं की बल्कि परिवार को भगवान के भरोसे रहने को कह दिया है | इस दबंग दारोगा का ये कारनामा पहेला नहीं है इससे पहले भी दारोगा की दवंगई और मनमर्जी के मामले सामने आ चुके हैं |