बीजेपी प्रवक्ता पर जूता फेंकने वाले पर है आयकर का फंदा, तीन दिन तक घर में चला था सर्च आपरेशन !

shakti bhargwa
बीजेपी प्रवक्ता पर जूता फेंकने वाले पर है आयकर का फंदा, तीन दिन तक घर में चला था सर्च आपरेशन

नई दिल्ली। बीजेपी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा पर प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान जूता फेंकने वाले शख्स की शिनाख्त कानपुर निवासी शक्ति भार्गव के रूप में हुई है। शुरूआती जांच में शक्ति भागर्व के बारे में चौंकाने वाली जानकारी सामने आयी है। बताया जा रहा है कि शक्ति भार्गव की बेनामी संपत्ति और अघोषित आय से जुड़ी जांच आयकर कर रही है।

Shakti Bhargava Was Thrown Shoes Bjp Leader :

कानपुर के रहने वाले शक्ति भार्गव के यहां आयकर की टीम ने तीन दिन तक छापेमारी की थी। इस दौरान सामने आया था कि शक्ति भार्गव ने तीन बंगले खरीदे थे, जिसके लिए उसने अपने खाते से 11.5 करोड़ रूपये का भुगतान किया था। ये बंगले शक्ति भार्गव ने अपनी पत्नी, बच्चे व रिश्तेदार के नाम पर खरीदे थे।

बताया जा रहा है कि यह छापेमारी 2018 में तीन दिनों तक चली थी। इस दौरान इनके यहां से 28 लाख रूपये कैश और 50 लाख रूपये कीमत के जेवरात समेत अन्य कीमती सामान बरामद हुए थे। हालांकि पूछताछ के दौरान वह बरामद रूपयों का स्त्रोत नहीं बता पाये थे। वहीं इसके साथ ही शक्ति भार्गव की कई कंपनियों के बारे में जानकारी हुई है।

वहीं, शक्ति भार्गव ने सुप्रीम कोर्ट में केंद्र सरकार के खिलाफ एक याचिका भी दायर की थी, जिसे रद्द करते हुए कोर्ट ने सीबीआई को शक्ति भार्गव के खिलाफ केस कर जांच करने के आदेश दिए थे। इसके साथ ही शक्ति भार्गव ने अपनी फेसबुक पर सरकार के खिलाफ कई पोस्ट भी किया है।

बता दें कि कुछ देर पहले बीजेपी मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेस आयोजित की गयी र्थी। प्रेस कॉन्फ्रेस शुरू होते ही एक शख्स ने प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा पर जूता फेंक दिया, जिसके बाद हड़कंप मच गया। इसके बाद पुलिस ने उस शख्स केा हिरासत में ले लिया और उससे पूछताछ शुरू कर दी। पूछताछ में सामने आया कि जूता फेंकने वाला शख्स कानपुर का है और उसका नाम शक्ति भार्गव है।

नई दिल्ली। बीजेपी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा पर प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान जूता फेंकने वाले शख्स की शिनाख्त कानपुर निवासी शक्ति भार्गव के रूप में हुई है। शुरूआती जांच में शक्ति भागर्व के बारे में चौंकाने वाली जानकारी सामने आयी है। बताया जा रहा है कि शक्ति भार्गव की बेनामी संपत्ति और अघोषित आय से जुड़ी जांच आयकर कर रही है। कानपुर के रहने वाले शक्ति भार्गव के यहां आयकर की टीम ने तीन दिन तक छापेमारी की थी। इस दौरान सामने आया था कि शक्ति भार्गव ने तीन बंगले खरीदे थे, जिसके लिए उसने अपने खाते से 11.5 करोड़ रूपये का भुगतान किया था। ये बंगले शक्ति भार्गव ने अपनी पत्नी, बच्चे व रिश्तेदार के नाम पर खरीदे थे। बताया जा रहा है कि यह छापेमारी 2018 में तीन दिनों तक चली थी। इस दौरान इनके यहां से 28 लाख रूपये कैश और 50 लाख रूपये कीमत के जेवरात समेत अन्य कीमती सामान बरामद हुए थे। हालांकि पूछताछ के दौरान वह बरामद रूपयों का स्त्रोत नहीं बता पाये थे। वहीं इसके साथ ही शक्ति भार्गव की कई कंपनियों के बारे में जानकारी हुई है। वहीं, शक्ति भार्गव ने सुप्रीम कोर्ट में केंद्र सरकार के खिलाफ एक याचिका भी दायर की थी, जिसे रद्द करते हुए कोर्ट ने सीबीआई को शक्ति भार्गव के खिलाफ केस कर जांच करने के आदेश दिए थे। इसके साथ ही शक्ति भार्गव ने अपनी फेसबुक पर सरकार के खिलाफ कई पोस्ट भी किया है। बता दें कि कुछ देर पहले बीजेपी मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेस आयोजित की गयी र्थी। प्रेस कॉन्फ्रेस शुरू होते ही एक शख्स ने प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा पर जूता फेंक दिया, जिसके बाद हड़कंप मच गया। इसके बाद पुलिस ने उस शख्स केा हिरासत में ले लिया और उससे पूछताछ शुरू कर दी। पूछताछ में सामने आया कि जूता फेंकने वाला शख्स कानपुर का है और उसका नाम शक्ति भार्गव है।