1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. shakun shastra : मछली समृद्धि का प्रतीक है, इससे जुड़े शकुन के बारे में जानिए

shakun shastra : मछली समृद्धि का प्रतीक है, इससे जुड़े शकुन के बारे में जानिए

मछली को बहुत ही शुभ माना जाता है। हिंदू धर्म ग्रंथों के अनुसार मछली विजय का प्रतीक होती है। मछली सफलता की सूचक होती है। मदली को मीन भी कहते है। इसको आत्मा से जोड़ कर देख जाता है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

shakun shastra : मछली को बहुत ही शुभ माना जाता है। हिंदू धर्म ग्रंथों के अनुसार मछली विजय का प्रतीक होती है। मछली सफलता की सूचक होती है। मदली को मीन भी कहते है। इसको आत्मा से जोड़ कर देख जाता है। धर्म ग्रंथ शकुन शास्त्र में कहा गया है कि यात्रा करते समय यदि रास्ते में मछली दिख जाए तो समझिये की कार्य सफल ​हो गया। प्राचीन काल से ही यात्रा के शकुन में मछली और दही, और पान को देख कर यात्रा प्रारंभ की जाती है। मछली समृद्धि का प्रतीक है और दस अवतारों में मत्स्य अवतार भी हुआ था। भोर के समय मछली को देखने से न सिर्फ समृद्धि आती है, बल्कि तमाम रोगों से भी मुक्ति मिलती है। आईये जानते है मछली के शकुन के बारे में।

पढ़ें :- Shakun Shastra : झाडू न रखें घर के इस कक्ष में नही तो हो सकता है अपशगुन

1.काले रंग की मछली को एक खास महत्व होता है। माना जाता है कि काले रंग की मछली सुरक्षा का प्रतीक होती है।
2.काली मछली घर की नकारात्मक ऊर्जा को मिलती है।
3.अपने काले रंग के कारण वो घर की नेगेटिव एनर्जी को खुद की ओर आकर्षित करती है।
4.ऐसी मान्यता है कि घर पर रंगीन मछलियां पालने से घर के सदस्यों पर आने वाली मुसीबत टल जाती हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...