1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. shakun shastra: शकुन और अपशकुन के इन संकेतों को पहचानें, इंसान को आने वाले संकटों से सावधान करते हैं

shakun shastra: शकुन और अपशकुन के इन संकेतों को पहचानें, इंसान को आने वाले संकटों से सावधान करते हैं

जब हम किसी कार्य में सफलता प्राप्त करते है या असफलता प्राप्त करते है तो दोनों ही स्थितियों परिणाम का मूल्यांकन करते है। शुभ -अशुभ का विचार चिंतन में सदैव साथ चलता रहता है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

shakun shastra: जब हम किसी कार्य में सफलता प्राप्त करते है या असफलता प्राप्त करते है तो दोनों ही स्थितियों परिणाम का मूल्यांकन करते है। शुभ- अशुभ का विचार चिंतन में सदैव साथ चलता रहता है। शुभ- अशुभ संकेतों के बारे बहुत अधिक जानकारी न होने पर उस समय यह आवश्यकता पड़ती है कि किसी तर​ह हमें उन संकतों के बारे में सटीक पता चले कि संकेतों के पीछे छुपे रहस्यों का राज क्या है। शुभ -अशुभ के विचार पर शकुन शास्त्र में विस्तृत रूप से बताया गया है।आईये जानतें है जीवन से जुड़े कुछ ऐसे ही शुभ एवं अशुभ शकुन के बारे में।

पढ़ें :- shakun shastra: हाथ का अंगूठा फड़के तो कोई अशुभ सूचना प्राप्त होती है, जानिए क्या कहते है अंग फड़कने के संकेत 
  • रूई का कोई टुकड़ा किसी व्यक्ति के कपड़ों पर चिपका मिले तो यह शुभ शकुन है।
  • कोई कुत्ता घर के मेन गेट के सामने मुंह करके रोए तो घर में कोई समस्या या ये किसी की मृत्यु का संकेत देता है।
  • यदि आपके घर के आंगन में कोई पक्षी घायल होकर गिरे तो यह निकट भविष्य में होने वाली दुर्घटना का संकेत होता है।
  • घर में दीमक की बामी या मधुमक्खी छत्ता होना घर के मुखिया के स्वास्थ्य में होने वाली परेशानी की ओर इशारा करता है।
  • दूध को जान-बूझकर छलकाना अपशकुन माना जाता है, जो घर में कलह का कारण है।
  • जेब को खाली रखना अपशकुन मानते हैं। कहा जाता है कि पैसे को अपने कपड़ों की हर जेब में रखना चाहिए। कभी भी पर्स खाली नहीं रखना चाहिए।
  • सुबह के समय यदि पानी या दूध से भरी बाल्टी दिखाई दे तो शुभ होता है। इससे मन में सोचे कार्य पूरे होते हैं।
  • खाली बाल्टी देखना अपशकुन समझा जाता है, जो बने-बनाए कार्यों को बिगाड़ देता है।
  • शीशे का टूटना भी किसी बुरा घटना का संकेत माना गया है। शीशा टूटने पर उसे तुरंत घर से बाहर फेंक देना चाहिए।
  • टूटे हुए शीशे में कभी भी अपनी शक्ल नहीं देखनी चाहिए।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...