शर्मनाक: यूपी के कौशांबी में दरिंदों ने 14 दिन तक किया नाबालिग से गैंगरेप

कौशांबी। यूपी में जहां एक तरफ महिला सुरक्षा के नाम पर सरकार बड़े-बड़े दावे कर रही है वहीं महिलाओं की आबरू के साथ खिलवाड़ का मामला आग की तरह बढ़ता ही जा रहा है। बीते दिनों प्रदेश के कई हिस्सों से आई खबरों ने योगी सरकार की कार्यशैली पर सवालिया निशान तो लगाया ही लेकिन यह सिलसिला रुकने का नाम नहीं लर रहा। अब यूपी कौशांबी जिले हैवानियत की एक तस्वीर सामने आ रही है जहां एक 15 साल की नाबालिग के साथ चार दरिंदे करीब 14 दिनों तक गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया है। इस दौरान जब उसकी हालत बिगड़ने लगी तो आरोपी देर रात उसे सड़क किनारे फेक कर फरार हो गए। सुबह गांव वालों ने उसे बेहोश हालत में पड़े देखा तो परिजनों को इसकी सूचना दी। उसे इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया गया। इसके बाद परिजनो ने इस घटना की सूचना थाने में दी।

पीड़िता के पिता के मुताबिक बेटी ने कुछ समय पहले पढ़ाई छोड़ दी थी। जिसके बाद वो घर पर ही रहती है। इस बीच उनके घर रिश्तेदार मूलचंद का आना-जाना लगा रहता था, इस दौरान मूलचंद ने बहला-फुसलाकर उनकी बेटी को अपने प्रेम जल में फंसा लिया और 15 दिन पहले एक नई दुनिया बसाने का ख्वाब दिखाकर बेटी को भाग चलने के लिए कहा। बेटी उससे प्यार करती थी, इसलिए सब छोड़कर उसके साथ जाने को तैयार हो गई। मूलचंद उसे अपने साथ लेकर एक कमरे में पंहुचा। जहां पहले से ही उसके तीन दोस्त मौजूद थे।

{ यह भी पढ़ें:- यूपी के 46 मदरसों की अनुदान राशि पर रोक, जांच के बाद CM योगी ने की कार्रवाई }

पीड़िता का बयान, दोस्तों से संबंध बनाने को कहा-
पीड़िता का आरोप है कि कमरे में पहुंचने के बाद मूलचंद ने वहां बैठे तीनों दोस्तों से मिलवाया। इसके बाद उसने यह कह कर तीनों से संबंध बनाने को कहा कि ऐसा करने के बाद ही यह हमारी शादी होने में हमारी मदद करेंगे। लेकिन इस बाद से नाराज़ पीड़िता ने जब अपने प्रेमी मूलचंद का विरोध किया तो वो भड़क गया और जबरन लड़की को एक कमरे में कैद कर बारी-बारी से अपने दोस्तों के साथ मिलकर उसके साथ गैंगरेप करता था। इस तरह करीब 14 दिनों तक आरोपियों ने अपने नापाक इरादों को पूरा किया। इस दौरान जब लड़की की हालत बिगड़ने लगी तो मूलचंद ने उसे रात के अंधेरे में सड़क के किनारे फेक दिया और वहां से फरार हो गया।

क्या कहती है पुलिस-
पुलिस के मुताबिक पीड़िता के बयान पर चारों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। जल्द ही आरोपी पुलिस की गिरफ्त में होंगे।

{ यह भी पढ़ें:- योगी सरकार की ऋण माफी योजना से उत्साहित किसान चांद पर करेंगे खेती }