Politics: क्या फिर से चुनाव लड़ सकते हैं एनसीपी प्रमुख शरद पवार?

c

मुम्बई। एनसीपी प्रमुख शरद पवार की चुनावी राजनीति में वापसी हो सकती है और वह दक्षिण पश्चिमी महाराष्ट्र की माढा सीट से आगामी लोकसभा चुनाव लड़ सकते हैं। यह बात पार्टी से जुड़े कुछ सूत्र का कहना है। शरद पवार फिलहाल राज्यसभा सदस्य हैं।

Sharad Pawar Can Contest Lok Sabha Elections :

सूत्र ने दावा किया कि यह महसूस किया गया कि चुनावों के बाद प्रधानमंत्री पद के लिए विपक्ष के उम्मीदवार के रूप में उभरने की संभावना के लिए पवार को लोकसभा सदस्य होना चाहिए। एनसीपी के फिलहाल पांच लोकसभा सदस्य हैं। सोलापुर जिले की माढा सीट का फिलहाल पार्टी नेता विजय सिंह मोहिते पाटिल प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।

सूत्र ने कहा कि मोहिते पाटिल को राज्यसभा भेजा जा सकता है। पवार ने 2009 में माढा से चुनाव जीता था। इसके बाद उन्होंने घोषणा की थी कि वह अब चुनाव नहीं लड़ेंगे। इससे पहले बुधवार को एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने आम आदमी पार्टी की दिल्ली में आयोजित रैली में हिस्सा लिया।

एनसीपी के साथ ही इस रैली में कई विपक्षी पार्टियों के नेता जुटे। इस रैली को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, टीडीपी प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू, नेशनल कॉन्फ्रेंस के फारूक अब्दुल्लाए एनसीपी के शरद पवार और माकपा के सीताराम येचुरी ने भी संबोधित किया।

मुम्बई। एनसीपी प्रमुख शरद पवार की चुनावी राजनीति में वापसी हो सकती है और वह दक्षिण पश्चिमी महाराष्ट्र की माढा सीट से आगामी लोकसभा चुनाव लड़ सकते हैं। यह बात पार्टी से जुड़े कुछ सूत्र का कहना है। शरद पवार फिलहाल राज्यसभा सदस्य हैं। सूत्र ने दावा किया कि यह महसूस किया गया कि चुनावों के बाद प्रधानमंत्री पद के लिए विपक्ष के उम्मीदवार के रूप में उभरने की संभावना के लिए पवार को लोकसभा सदस्य होना चाहिए। एनसीपी के फिलहाल पांच लोकसभा सदस्य हैं। सोलापुर जिले की माढा सीट का फिलहाल पार्टी नेता विजय सिंह मोहिते पाटिल प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। सूत्र ने कहा कि मोहिते पाटिल को राज्यसभा भेजा जा सकता है। पवार ने 2009 में माढा से चुनाव जीता था। इसके बाद उन्होंने घोषणा की थी कि वह अब चुनाव नहीं लड़ेंगे। इससे पहले बुधवार को एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने आम आदमी पार्टी की दिल्ली में आयोजित रैली में हिस्सा लिया। एनसीपी के साथ ही इस रैली में कई विपक्षी पार्टियों के नेता जुटे। इस रैली को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, टीडीपी प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू, नेशनल कॉन्फ्रेंस के फारूक अब्दुल्लाए एनसीपी के शरद पवार और माकपा के सीताराम येचुरी ने भी संबोधित किया।