कार में फंसे लोगों को देख शरद पवार ने रोका अपना काफिला, ऐसे किया मदद

महाराष्ट्र। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्यक्ष शरद पवार एक बार फिर सुर्खियों में है लेकिन इस बार राजनीति की वजह से नहीं बल्कि घायलों की सेवा करके।

Sharad Pawar Helps Accident Victims In Gadchiroli Of Maharashtra :

दरअसल, पवार महाराष्ट्र के विदर्भ इलाके के दौरे पर हैं। इसी के चलते वे नागपुर से गडचिरोली जा रहे थे। तभी रास्ते में भिलापुर के पास एक सड़क हादसा हुआ था। हादसा काफी भयानक था। लोग गाड़ी में बुरी तरह से फंसे हुए थे। मदद के लिए लोग चीख रहे थे। तभी पवार की नजर हादसे पर पड़ी तो उन्होंने अपना काफिला रुकवाया और मदद के लिए खुद बाहर आए।

बुधवार सुबह वे नागपुर एयरपोर्ट से गढ़चिरौली जा रहे थे। उनके साथ उनका काफिला भी था। हाईवे पर भिवापुर के पास एक डंपर और कार के बीच टक्कर हुई थी और कार में एक फैमिली के चार लोग फंसे थे जिसमें दो बच्चे भी शामिल थे। काफिला हाईवे से गुजर रहा था उसी समय शरद पवार ने हादसा देखा और ड्राइवर को कार रोकने के लिए कहा।

पवार खुद गाडी से उतरे और हादसे की वजह से क्षतिग्रस्त कार के पास पहुंचे। उनके साथ काफिले में शामिल नेता भी हादसा ग्रस्तों की मदद के लिए आगे आए। शरद पवार के सिक्युरिटी गार्ड्स ने भी घायलों को कार से बाहर निकाला और एम्बुलेंस से हॉस्पिटल पहुंचाया। उन्हें हॉस्पिटल पहुंचाने तक पवार घटनास्थल पर ही रुके रहे। घायलों को ले जाने के बाद ही वे अपने गढ़चिरौली के कार्यक्रम के लिए निकले।

महाराष्ट्र। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्यक्ष शरद पवार एक बार फिर सुर्खियों में है लेकिन इस बार राजनीति की वजह से नहीं बल्कि घायलों की सेवा करके। दरअसल, पवार महाराष्ट्र के विदर्भ इलाके के दौरे पर हैं। इसी के चलते वे नागपुर से गडचिरोली जा रहे थे। तभी रास्ते में भिलापुर के पास एक सड़क हादसा हुआ था। हादसा काफी भयानक था। लोग गाड़ी में बुरी तरह से फंसे हुए थे। मदद के लिए लोग चीख रहे थे। तभी पवार की नजर हादसे पर पड़ी तो उन्होंने अपना काफिला रुकवाया और मदद के लिए खुद बाहर आए। बुधवार सुबह वे नागपुर एयरपोर्ट से गढ़चिरौली जा रहे थे। उनके साथ उनका काफिला भी था। हाईवे पर भिवापुर के पास एक डंपर और कार के बीच टक्कर हुई थी और कार में एक फैमिली के चार लोग फंसे थे जिसमें दो बच्चे भी शामिल थे। काफिला हाईवे से गुजर रहा था उसी समय शरद पवार ने हादसा देखा और ड्राइवर को कार रोकने के लिए कहा। पवार खुद गाडी से उतरे और हादसे की वजह से क्षतिग्रस्त कार के पास पहुंचे। उनके साथ काफिले में शामिल नेता भी हादसा ग्रस्तों की मदद के लिए आगे आए। शरद पवार के सिक्युरिटी गार्ड्स ने भी घायलों को कार से बाहर निकाला और एम्बुलेंस से हॉस्पिटल पहुंचाया। उन्हें हॉस्पिटल पहुंचाने तक पवार घटनास्थल पर ही रुके रहे। घायलों को ले जाने के बाद ही वे अपने गढ़चिरौली के कार्यक्रम के लिए निकले।