महाराष्ट्र में सरकार गठन पर बोले शरद पवार-इससे कोई लेना-देना नहीं, उद्धव ठाकरे संग करेंगे प्रेसवार्ता

sharad pawar
महाराष्ट्र में सरकार गठन पर बोले शरद पवार-इससे कोई लेना-देना नहीं, उद्धव ठाकरे संग करेंगे प्रेसवार्ता

मुंबई। महाराष्ट्र की राजनीति में रातों रात हुए उलटफेर के बाद वहां सरकार का गठन हो गया। नाटकीय घटनाक्रम के तहत देवेंद्र फडणवीस के मुख्यमंत्री और अजित पवार के उपमुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लिया। वहीं, सरकार गठन को लेकर एनसीपी अध्यक्ष शरदा पवार ने कहा कि अजित पवार का यह निजी फैसला है, न कि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी का।

Sharad Pawar On Maharashtra Government Formation Nothing To Do With It Uddhav Thackeray Will Press Conference :

वहीं, दोपहर में शरद पवार शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के साथ प्रेस कांफ्रेंस कर अपनी बात कहेंगे। शरद पवार ने ट्वीट कर कहा कि महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए भाजपा को समर्थन देने का अजित पवार का फैसला उनका व्यक्तिगत निर्णय है। यह राकांपा का फैसला नहीं है। हम यह स्पष्ट कर देना चाहते हैं कि हम इस फैसले का समर्थन नहीं करते।

वहीं, शिवसेना नेता संजय राउत ने अजित पवार और बीजेपी पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि अजित पवार ने शरद पवार को धोखा दिया है। यह धोखा महाराष्ट्र की जनता और छत्रपति शिवाजी महाराज के साथ हुआ है। उन्होंने कहा कि अजित पवार ने महाराष्ट्र की पीठ में खंजर घोंपा है, जनता उन्हें और बीजेपी को सबक सिखाएगी।

शिवसेना का आरोप है कि सत्ता और पैसे के दम पर पूरा खेला हुआ है। अजित पवार नजर नहीं मिला पा रहे थे। अंधेरे में अजित पवार ने डाका डाला है। अजित पवार और उनके साथियों ने छत्रपति शिवाजी का नाम बदनाम किया है। आज सुबह दो बार उद्धव ठाकरे से शरद पवार की बात हुई थी।

मुंबई। महाराष्ट्र की राजनीति में रातों रात हुए उलटफेर के बाद वहां सरकार का गठन हो गया। नाटकीय घटनाक्रम के तहत देवेंद्र फडणवीस के मुख्यमंत्री और अजित पवार के उपमुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लिया। वहीं, सरकार गठन को लेकर एनसीपी अध्यक्ष शरदा पवार ने कहा कि अजित पवार का यह निजी फैसला है, न कि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी का। वहीं, दोपहर में शरद पवार शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के साथ प्रेस कांफ्रेंस कर अपनी बात कहेंगे। शरद पवार ने ट्वीट कर कहा कि महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए भाजपा को समर्थन देने का अजित पवार का फैसला उनका व्यक्तिगत निर्णय है। यह राकांपा का फैसला नहीं है। हम यह स्पष्ट कर देना चाहते हैं कि हम इस फैसले का समर्थन नहीं करते। वहीं, शिवसेना नेता संजय राउत ने अजित पवार और बीजेपी पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि अजित पवार ने शरद पवार को धोखा दिया है। यह धोखा महाराष्ट्र की जनता और छत्रपति शिवाजी महाराज के साथ हुआ है। उन्होंने कहा कि अजित पवार ने महाराष्ट्र की पीठ में खंजर घोंपा है, जनता उन्हें और बीजेपी को सबक सिखाएगी। शिवसेना का आरोप है कि सत्ता और पैसे के दम पर पूरा खेला हुआ है। अजित पवार नजर नहीं मिला पा रहे थे। अंधेरे में अजित पवार ने डाका डाला है। अजित पवार और उनके साथियों ने छत्रपति शिवाजी का नाम बदनाम किया है। आज सुबह दो बार उद्धव ठाकरे से शरद पवार की बात हुई थी।