1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Sharad Pawar को मिली जान से मारने की धमकी, महाराष्ट्र सरकार में मचा हड़कंप

Sharad Pawar को मिली जान से मारने की धमकी, महाराष्ट्र सरकार में मचा हड़कंप

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (Nationalist Congress Party) के अध्यक्ष शरद पवार को सोशल मीडिया पर ‘मौत की धमकी’ मिली थी, जिसे लेकर महा विकास अघाड़ी सरकार में हड़कंप मच गया है। एनसीपी सुप्रीमो का जिक्र करते हुए मराठी में 11 मई की धमकी में कहा गया कि बारामती के ‘गांधी’ और बारामती के लिए नाथूराम गोडसे (Nathuram Godse) तैयार करने का समय आ गया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

मुंबई। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (Nationalist Congress Party) के अध्यक्ष शरद पवार को सोशल मीडिया पर ‘मौत की धमकी’ मिली थी, जिसे लेकर महा विकास अघाड़ी सरकार (Maha Vikas Aghadi Government) में हड़कंप मच गया है। एनसीपी सुप्रीमो का जिक्र करते हुए मराठी में 11 मई की धमकी में कहा गया कि बारामती के ‘गांधी’ और बारामती के लिए नाथूराम गोडसे (Nathuram Godse) तैयार करने का समय आ गया है।

पढ़ें :- राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के हाथों से शरद पवार के भतीजे ने नहीं लिया कृषि रत्न अवॉर्ड, लगाया गंभीर आरोप

ट्वीट निखिल भामरे द्वारा पोस्ट किया गया था, जिसमें यह भी लिखा था, “बारामती अंकल, क्षमा करें।” हालांकि जिस संदर्भ में धमकियां जारी की गई, वह स्पष्ट नहीं है, लेकिन पिछले कुछ दिनों में इसे लाइक किया गया और कई लोगों द्वारा ट्वीट किया गया।

राकांपा के आवास मंत्री जितेंद्र आव्हाड (NCP Housing Minister Jitendra Awhad) ने गंभीरता से संज्ञान लेते हुए इस बात पर खेद व्यक्त किया कि और पुलिस को धमकी देने वाले विक्षिप्त व्यक्ति के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने को कहा है। उन्होंने महाराष्ट्र के पुलिस महानिदेशक (Maharashtra Director General of Police) और मुंबई, ठाणे और पुणे के पुलिस आयुक्तों का भी ध्यान आकर्षित किया।

गृह मंत्री से धमकी पर ध्यान देने का आग्रह

शिवसेना की प्रवक्ता मनीषा कायंडे (Shiv Sena spokesperson Manisha Kayande) ने चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि यह अनुमान लगाने की कोई जरूरत नहीं है कि पवार को मारने की धमकियों के पीछे कौन सी टीम है क्योंकि ‘हर कोई जानता है कि गोडसे की पूजा कौन करता है’ और गृह मंत्री दिलीप वालसे-पाटिल (Home Minister Dilip Walse-Patil) से गंभीरता से ध्यान देने का आग्रह किया।

पढ़ें :- Sharad Pawar-PM Modi meeting: पीएम मोदी से मिले शरद पवार, जाने दोनों नेताओं के बीच क्या हुई बातचीत?

कई दलों ने की धमकियों की निंदा

कांग्रेस के राज्य महासचिव सचिन सावंत ने कहा कि लोगों के लिए यह सोचने का समय है कि भारतीय जनता पार्टी और संघ परिवार के समाज को हिंसक और विकृत बनाने के प्रयासों ने देश को कहां धकेला है। सत्तारूढ़ शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस (Shiv Sena-NCP-Congress) के कई अन्य राजनीतिक नेताओं ने भी 81 वर्षीय पवार को दी गई धमकियों पर सोशल मीडिया नेटवर्क पर निंदा की है।

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...