1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. मोदी से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में बोले शरद पवार- जमात के मुद्दे को तूल देना सही नहीं

मोदी से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में बोले शरद पवार- जमात के मुद्दे को तूल देना सही नहीं

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 5274 पंहुच गयी है जबकि इसकी चपेट में आने से 149 लोगों ने दम तोड़ दिया है। हालांकि पीएम मोदी ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए 21 दिनो के लिए देश को सम्पूर्ण लॉकडाउन कर दिया था लेकिन अब इसे बढ़ाने की कवायद शुरू हो गयी है। इसी को लेकर मोदी सरकार ने आज सर्वदलीय बैठक बुलाई थी। इस बैठक में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए विपक्षी दलों के नेताओं ने भी हिस्सा लिया। इसी दौरान एनसीपी नेता शरद पवार ने तबलीगी जमात को लेकर बन रहे माहौल पर चिंता जाहिर की है।

चर्चा के दौरान लॉकडाउन और पीपीई जैसे मुद्दों पर भी बात हुई। इसमें कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद भी शामिल थे। विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद के मुताबिक तबलीगी जमात को लेकर भी प्रधानमंत्री मोदी और बाकी दलों के नेताओं के बीच बातचीत हुई। इसी बैठक में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) सुप्रीमो शरद पवार ने तबलीगी जमात का मसला उठाया। प्रधानमंत्री के साथ बैठक में शरद पवार ने तबलीगी जमात को लेकर मीडिया में चल रही खबरों पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि इस मामले को और तूल देना ठीक नहीं है।

शरद पवार ने पीएम मोदी से कहा कि हर दिन टीवी चैनलों पर हो रही चर्चा से देश का माहौल खराब होता है और इन परिस्थितियों में हमें इससे बचना चाहिए। बता दें, कोरोना वायरस और लॉकडाउन को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए बीजेपी, कांग्रेस, डीएमके, एआईएडीएमके, टीआरएस, सीपीआईएम, टीएमसी, शिवसेना, एनसीपी, अकाली दल, एलजेपी, जेडीयू, एसपी, बीएसपी, वाईएसआर कांग्रेस के फ्लोर लीडर्स के साथ कोरोना और लॉकडाउन पर चर्चा की।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...